अन्य
    अन्य

      सुनिए-देखिए और ऐसे बदमाश पैक्स अध्यक्ष के खिलाफ जांच-कार्रवाई कीजिए एसपी-डीएम साहब

      नालंदा  दर्पण डेस्क। कतरीसराय थाना क्षेत्र के कतरी पंचायत पैक्स अध्यक्ष उदय सिंह का एक ऑडियो और एक वीडियो वायरल हो रहा है।

      वायरल ऑडियो काफी गंदा है। वहीं वायरल वीडियो में अपनी विभत्व गलती की माफी। दोनों परिस्थितियां पूरे कानून व्यवस्था को नंगा करती है।

      पुलिस-प्रशासन को ऐसे लोगों के खिलाफ त्वरित जाँच कर कठोरतम कार्रवाई करनी चाहिए, ताकि कोई भी ऐसा करने की हिमाकत न कर सके।

      वायरल ऑडियो में तथातकथित पैक्स अध्यक्ष एक आर्केस्ट्रा संचालक से पुलिस की धौंस दिखा कर सेक्स के लिए लड़की मांग रहा है। बातचीत में वह शराब के नशे में धुत लग रहा है। हर वाक्य में माँ-बहन-बेटी की गालियां बकने वाला यह पैक्स अध्यक्ष कह रहा है कि वह थानेदार के साथ बैठ के दारु पीता है।

      ऑडियो में आगे कह रहा है कि राजगीर डीएसपी पुलिस बल के साथ आ रहा है, जल्दी रेड हो जाएगी। सभी लड़कियों को बाहर करो। हमारे यहाँ भेज दो। हटा दो। पाँचो नहीं तो कम से कम एक को सेक्स के लिए तुरंत भेजो। नहीं तो पुलिस आ रही है। बर्बाद हो जाओगे।

      करीव 10 मिनट 39 सेकेंड की इस वायरल ऑडियो में पैक्स अध्यक्ष आधा दर्जन हथियार रखने की बात कर रहा है। सामने वाले को गोलियों से छलनी कर देने की बात कर रहा है। एक शैतान में जितने असमाजिक गुण होने चाहिए, वे सारे खुद की महानता में कशीदे गढ़ रहा है।

      उधर वायरल ऑडियो में गुंजन कुमार नामक आर्केस्टा संचालक हर बाक्य में माफी मांग रहा है और भविष्य में कोई गलती नहीं करने की गुहार लगा रहा है। सेक्स के लिए लड़की की माँग पर वह इंकार कर रहा है। सबको शादीशुदा कलाकार बता रहा है।

      कहते हैं कि ऑडियो वायरल होने के बाद स्थानीय आम लोगों में आक्रोश फैलने लगा तो पैक्स अध्यक्ष की ओर से एक वीडियो वायरल करवाया गया।

      इस वीडियो में पैक्स अध्यक्ष कह रहा है कि वह अपनी हरकत के लिए क्षेत्र की जनता से माफी माँगता है। वह सब कुछ किसी के बहकावे में आकर किया है।

      इस वायरल ऑडियो-वीडियो की जानकारी स्थानीय पुलिस को भी है। कतरीसराय थानाध्यक्ष ने बताया कि वे पैक्स अध्यक्ष को जानते हैं। यह सब ‘उन लोगों’ का आपसी मामला है। जब उन्से पूछा गया कि कथित पैक्स अध्यक्ष पुलिस की छवि को भी नंगा कर रहा तो वे ठ्ठक गए और बोले कि वे उसे इतना भी नहीं जानते।

      बहरहाल, बात कुछ भी हो। पुलिस-प्रशासन की आँख में थोड़ी भी लज्जा है तो कतरी पैक्स अध्यक्ष सरीखे लोगों के खिलाफ कड़ी से कड़ी जाँच कार्रवाई त्वरित करनी चाहिए। क्योंकि सोशल मीडिया के जरिए शासन और समाज की जिस तरह से छवि धूमिल कर रही है, वे काफी खतरनाक संकेत देने वाले हैं।

      खासकर तब, जब नालंदा जिले से सीएम नीतीश कुमार का गृह जिला होने बाबजूद यहाँ की विधि-व्यवस्था बेपटरी हो चली हो…..

       

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

      Related News