अन्य

    नदी में डूबने से बालू धंधेबाज की मौत के बाद पुलिस पर हमला, 2 पुलिस वाहन क्षतिग्रस्त, 4 पुलिसकर्मी जख्मी

    राजगीर (नालंदा दर्पण)। गिरियक थाना अंतर्गत घोड़ा कटोरा गांव के पंचाने नदी में अवैध खनन कर रहे धंधेबाज, पुलिस को देखकर भागने लगे। एक धंधेबाज नदी में कूद गया। जिससे डूबकर उसकी मौत हो गई। मृतक गिरियक निवासी चनारिक यादव का 32 वर्षीय ट्रैक्टर चालक पुत्र सकलदेव यादव है।

    घटना के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने पुलिस पर रोड़ेबाजी कर दी। बलों की संख्या कम रहने के कारण पुलिस को पीछे हटना पड़ा। घटना में चार पुलिस कर्मी जख्मी हो गए। जबकि, दो पुलिस वाहन क्षतिग्रस्त हो गया।

    पुलिस पर हमला की सूचना पाकर राजगीर एसडीओ-डीएसपी भारी संख्या में सुरक्षा बलों के साथ पहुंच गए। पुलिस शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल लेकर चली गई।

    उधर, आक्रोशितों ने हटिया मोड़ के समीप मुआवजा की मांग करते हुए जाम लगा दिया। प्रशासनिक अधिकारियों ने प्रावधान के तहतमुआवजा का अश्वासन दिया। तब करीब दो घंटे बाद एनएच से जाम हटाया जा सका।

    ग्रामीणों ने बताया कि घोड़ा कटोरा के पंचाने नदी में हर दिन धंधेबाज बालू उठाव करते हैं। पुलिस टीम धंधेबाजों पर कार्रवाई के लिए आई तो सभी नदी में कूदकर फरार हो गए। जबकि, एक ट्रैक्टर चालक की नदी में डूबकर मौत हो गई।

    मौत से गुस्साए परिजन व ग्रामीणों ने पुलिस टीम पर रोड़ेबाजी कर दी। हंगामा की सूचना पाकर राजगीर डीएसपी प्रदीप कुमार, एसडीओ अनिता सिन्हा दलबल के साथ आ गईं। पुलिस शव को कब्जे में कर अस्पताल ले गई।

    आक्रोशितों ने मुआवजा की मांग करते हुए एनएच 20 पर जाम लगा दिया। प्रावधान के तहत मुआवजा के आश्वासन पर करीब दो घंटे बाद मार्ग पर यातायात सुचारू हो सका। उपद्रवियों पर केस दर्ज करने की प्रकिया शुरू कर दी गई है।

    Comments