अन्य

    नशेड़ी हुड़दंगियों के होली बाद मटका फोड़ हंगामा, युवक पर जानलेवा हमला, हालत गंभीर, नकारा बनी चंडी पुलिस

    चंडी (नालंदा दर्पण)। चंडी थाना क्षेत्र के जैतीपुर में मंगलवार को मटका फोड़ होली के दौरान हुड़दंगियों ने एक युवक पर जानलेवा हमला किया है। वहीं हुड़दंगियों की रोड़ेबाजी में कई अन्य लोग भी जख्मी हो गए हैं। इन हुड़दंगियों का शिकार हुए एक युवक का गंभीर हालत में पटना के एक निजी अस्पताल ईलाज चल रहा है।

    इसके पहले यही हुड़दंगी लोग होली की शाम भी जैतीपुर में गाने बजाने और नाचने से मना करने पर पुलिस से भिड़ गये थे।

    बताया जाता है कि होली के अगले दिन मंगलवार को जैतीपुर के पास कुछ उत्साही लोगों ने मटका फोड़ होली का आयोजन किया था। उसी हुड़दंग में गांव के स्व राम ईश्वर सिंह के पुत्र सुधीर कुमार फंस गया।

    दरअसल हुआ यह कि सुधीर कुमार अपने एक मित्र के साथ स्कूटी से चंडी बाजार से कुछ सामान लेकर लौट रहे थे। तभी हुड़दंगियों ने उनकी स्कूटी रूकवा कर उनके उपर पुआल और पानी उड़ेल दिया। इसका विरोध उन्होंने किया।

    विरोध होता देख अन्य हुड़दंगी भी पहुंच गए। मना करने पर उन लोगों ने ईंट रोड़े से हमला कर दिया। जिसमें सुधीर कुमार बुरी तरह घायल हो गए।

    घटना की सूचना उन्होंने गांव में अपने साथियों को दी। सूचना पाकर दयालपुर से लोग पहुंचे। उसके बाद जैतीपुर के हुड़दंगी उनसे भी भिड़ गए। जिसमें कई अन्य को भी चोटें लगी। घायल सुधीर कुमार ने इसकी सूचना थाना को दी, लेकिन पुलिस ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया।

    चंडी रेफरल अस्पताल में प्रारंभिक इलाज के बाद उसे पटना रेफर कर दिया गया। जहां उसकी तबीयत और बिगड़ गई। फिलहाल सुधीर कुमार का इलाज चल रहा है।

    होली की शाम पुलिस से भी भिड़ गए थे हुड़दंगी: इस घटना के एक दिन पहले भी होली की शाम जैतीपुर के हुड़दंगी पुलिस से भी भिड़ गए थे।

    सोमवार शाम को जैतीपुर मंदिर के पास 20-25 की संख्या में लोग साउंड सिस्टम बजाकर सड़क पर नाच रहें थे। तभी चंडी से नरसंढा की ओर गश्ती में निकली पुलिस वाहन पर सवार एक अधिकारी ने सड़क पर जमघट लगाने और नाचने के लिए मना किया।

    जब पुलिस अधिकारी सख्त हिदायत देकर वाहन से आगे निकले। लोगों ने फिर से तेज आवाज में हुड़दंग शुरू कर दिया। पुलिस ने वाहन रोककर फिर सबको खदेड़ा। लेकिन पुलिस के जाते ही सड़क पर फिर से नाच-गाना और हुड़दंग शुरू हो गया।

    वैसे भी कहा जाता है कि जैतीपुर का इलाका शाम होते ही शराबियों की शाम रंगीन होने लगती है और चंडी थाना की पुलिस बिल्कुल नकारा दिखती है।