अन्य

    अस्थावां रेफरल अस्पताल में जन्मा यह विचित्र बच्चा बना चर्चा का विषय

    अस्थावां (नालंदा दर्पण)। बिहार के नालंदा जिलान्तर्गत अस्थावां प्रखंड रेफरल अस्पताल में आज मंगलवार को एक विचित्र बच्चा ने जन्म लिया है। जोकि सर्वत्र चर्चा का विषय बन गया है।

    खबरों के मुताबिक बच्चे के दोनों हाथ और एक पैर अविकसित है। अस्पताल में मौजूद डॉक्टर ने बताया कि नवजात बिल्कुल स्वस्थ है।नवजात शिशु रहुई प्रखंड के कुमरडीह गांव निवासी राकेश कुमार का पुत्र है।

    राकेश कुमार की पत्नी को बीती रात प्रसव पीड़ा हुई, जिसके बाद अस्थावां प्रखंड के श्रीचंदपुर स्थित मायका से परिजनों ने डिलेवरी के लिए प्रसूता को अस्थावां रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया था।

    शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. सुनील कुमार बताते हैं कि इस विकार को थानाटोफोरिक डिस्प्लेशिया के नाम से जानते हैं। यह एक गंभीर कंकाल संबंधी विकार है, जिसकी विशेषता असमान्य रूप से छोटी पसली, अत्यंत छोटे अंगों, बांहों और पैरों पर अतिरिक्त त्वचा के सिल्वटों से होती है।

    हिलसा में स्कूल पर धावा बोल 70 वर्षीय रसोईया की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

    नालंदा के ग्रामीण आँचल में बिखरे ऐतिहासिक विरासत को संरक्षण की जरूरत

    नालंदा सैनिक स्कूल के 35 बच्चे हुए बीमार, विम्स पावापुरी में चल रहा ईलाज

    तेल्हाड़ा में हिलसा के सर्राफा व्यवसायी को गोलियों से भूना, मौके पर मौत, विरोध में कल बंद रहेगी दुकानें

    फिरौती की राशि नहीं देने पर हिलसा से लापता किशोर का शव जमुई के झाझा से बरामद, 3 अपहर्ता गिरफ्तार

    Comments