अन्य

    विधानसभा प्रत्याशी प्रियंका कुमारी ने लगाए गंभीर आरोप, कार्रवाई नहीं कर रही चंडी पुलिस

    बिहार शरीफ (नालंदा दर्पण)। विगत हरनौत विधानसभा चुनाव में बतौर शोषित समाज दल प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतरी प्रियंका कुमारी ने कतिपय आपराधिक प्रवृति के लोगों के द्वारा छेड़-छाड़, अभद्र व्यवहार, अश्लील बातें एवं सोशल मीडिया पर चरित्र पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने एवं सपरिवार बर्बाद करने की धमकी देने की लिखित शिकायत चंडी थाना में दी है। हालांकि खबर प्रेषण तक प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई है।

    चंडी थाना के केसौरा (चिस्तीपुर) निवासी नितीश कुमार की पत्नी प्रियंका कुमारी ने लिखा है कि वे पिछले हुए विहार विधानसभा चुनाव २०२० का हरनौत-१७७ निर्वाचन क्षेत्र से शोषित समाज दल से  उम्मीदवार के रूप में  चुनावी मैदान लड़ी थी, जो कुछ आपराधिक प्रवृति के लोगों को आज तक नहीं भा रही है।

    श्रीमति कुमारी ने लिखा है कि वे जनता की सेवा के सेवा के लिए जब कभी भी घर से बाहर क्षेत्र में निकलती हैं अथवा किसी सरकारी कार्यालय में जाती हैं तो आते जाते जब कभी भी १. राजीव कुमार उर्फ़ लल्लू (स्वघोषित जनवितरण प्रणाली दुकानदार ), पिता- कृष्णा प्रसाद , ग्राम+पोस्ट – चिस्तीपुर , थाना – चंडी , नालंदा २. विकाश कुमार (स्वघोषित जनवितरण प्रणाली दुकानदार ), पिता – राधे साव, ग्राम+पोस्ट- माधोपुर बाजार , थाना – चंडी , नालंदा एवं ३. लोकेशनाथ पांडेय , पिता- वैजनाथ पांडेय उर्फ़ वैजू पांडेय , ग्राम+पोस्ट- तीनी लोदीपुर , थाना- चंडी नालंदा का स्थाई निवासी हैं,  ये सब आमना-सामने मुलाकात हो जाती है तो उनके चरित्र पर तरह तरह की आपत्तिजनक एवं अश्लील टिप्पणियां करते हुए अभद्र व्यवहार करने का हर संभव प्रयास करते  हैं।

    श्री मति कुमारी के अनुसार उपरोक्त वर्णित तीनों आरोपी जगह-जगह उनके प्रति यह चर्चा करते फिरतें हैं कि चली है समाजसेवा करने। इसे नेता बनने का शौक है।  नेता बनने के पहले  वे लोग इसके सपरिवार को निस्तेनाबूत कर देंगें। किसी को पता तक नहीं चलेगा।

    उन्होंने लिखा है कि उपरोक्त वर्णित आरोपियों में लोकेशनाथ पांडेय और विकाश कुमार ने मीडिया व सोशल मीडिया में उनके चरित्र पर अपमानजनक सवाल उठाते हुए परिवार एवं समाज और आम जनता के बीच उनकी छवि को वदनाम करने का हर संभव प्रयास कर रहें हैं। लोकेश पांडेय ने शराब के नशे में धुत होकर फेसबुक लाइव वीडियो के जरिए उनके चरित्र पर उंगली उठाया है।

    प्रियंका कुमारी की माने तो उपरोक्त वर्णित तीनों आरोपी अपराधी प्रवृति के हैं और आम गरीब जनता के हक़ का अवैध तरीके से गबन करवाने में विचौलिए का कार्य करतें हैं, जो किसी से छिपी नहीं है। विकाश कुमार के अपने सगे बहनोई की माने तो उन पर विकाश कुमार द्वारा किराये का गुंडा भेजा गया था, जिसका प्राथमिकी दर्ज चंडी थाने में है।

    प्रियंका कुमारी ने चंडी थाना द्वारा शिकायत पर कार्रवाई करने में आनाकानी करने को लेकर हिलसा डीएसपी और नालंदा एसपी को भी सूचित करते हुए जान-माल और मान-सम्मान की रक्षा करने की गुहार लगाई है।

    Comments