अन्य

    लोकतांत्रिक तरीके से लड़ी जाएगी बिहार शरीफ के पहड़तल्ली के निवासियों की लड़ाई : संघर्ष मोर्चा

    नालंदा दर्पण डेस्क / डॉ. अरुण कुमार मयंक। बिहारशरीफ जहरीली शराबकाण्ड में दर्जनों लोगों की मौत हुई। इसके बाद प्रशासन बड़ी पहाड़ी, छोटी पहाड़ी, मंसूर नगर एवं सिंगारहाट की पहड़तल्ली में बसे निवासियों को अतिक्रमणवाद का नोटिस देकर घरों को खाली करने को कह रही है।

    इसके खिलाफ बिहार राज्य महादलित आयोग के पूर्व अध्यक्ष उदय मांझी के नेतृत्व में सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल ने नालन्दा डीएम शशांक शुभंकर को पहड़तल्ली के निर्दोष लोगों को नहीं उजाड़ने सम्बन्धी ज्ञापन दिया था। इन बातों की विस्तृत जानकारी देने के लिए पहड़तल्ली बचाओ संघर्ष मोर्चा की सर्वदलीय बैठक आज हुई।

    नालन्दा कांग्रेस भूसंपदा समिति के जिलाध्यक्ष राजीव कुमार मुन्ना ने वासियों को बतलाया कि बेवजह गैर कानूनी कार्य नहीं करे। डीएम ने किसी भी निर्दोष व्यक्ति पर कोई कार्यवाही नहीं करने का भरोसा दिलाया। अतः कोविड-19 के अनुरूप लड़ाई को लोकतांत्रिक तरीके से लड़ने की अपील की।

    समतावादी दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिलीप कुमार ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो आपकी समस्याओं के निदान के लिए पटना हाईकोर्ट सहित बिहार सरकार के आला अधिकारियों के समक्ष रखा जाएगा।अभी जल्दबाजी में कोई निर्णय न लें। अभी जिलाधिकारी पर भरोसा करना चाहिए,ताकि आंदोलन गलत दिशा में नहीं जा सके।

    एनसीपी के जिलाध्यक्ष राजकुमार पासवान तथा भाकपा(माले) के नेता पाल बिहारी लाल ने कहा कि कुछ लोग अतिक्रमण के नाम पर लोगों को गुमराह करने में लगे हैं। लेकिन अगर असल लड़ाई लड़नी है, तो एक मंच के नीचे आना पड़ेगा। न कि अलग-अलग धाराओं में अपनी लड़ाई को प्रदर्शित करें।

    प्रतिनिधिमंडल के नेताओं ने लोगों को आश्वस्त किया है कि हम लोग संविधान पर विश्वास करते हैं। कोई दिग्भ्रमित करने वाला कदम नहीं उठाएं जिससे आपका नुकसान हो और जिला प्रशासन आक्रामक हो जाये।

    आज की बैठक में सीपीआइ के जिला नेता राजकिशोर प्रसाद, स्वराज पार्टी के जिला सचिव संजय कुमार आदि नेताओं ने भी भाग लिया।

    मुख्यमंत्री के गृह जिला में ठीक गणतंत्र दिवस की पूर्व रात्रि संविधान निर्माता डॉ. अंबेदकर की प्रतिमा चुराई

    चंडी के खंडहरनुमा ‘कर्पूरी भवन’ के जीर्णोद्धार के लिए आरटीआई कार्यकर्ता ने सीएम-डीएम को पत्र लिखा

    एक बदकिस्मत इमारत बन कर रह गई चंडी का कर्पूरी भवन !

    अपराध पर अंकुश लगाने में पुलिस विफल, किसान के घर 8 लाख की भीषण डकैती

    पान समाज की ओर से चंडी प्रखंड प्रमुख का किया गया अभिनंदन

    Comments