अन्य
    Wednesday, July 24, 2024
    अन्य

      चंडी आदित्य हत्याकांड के सुराग ढूंढने में श्वान दस्ता भी विफल, गला दबाकर खाई में मिट्टी से ढका था शव

      एक स्थानीय संवाददाता ने नालंदा दर्पण को बताया कि मृतक का गला दबा कर हत्या कर उसके शव को खाई में फेंक कर उस पर मिट्टी डाल दिया गया था, ताकि किसी की नजर न पड़े....

      नालंदा दर्पण डेस्क। नालंदा के चंडी थाना क्षेत्र के जलालपुर में एक किशोर को अगवा कर उसकी गला दबाकर हत्या मामले की गुत्थी सुलझाने को लेकर पटना से आई डॉग स्कावड टीम ने घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण किया।

      chandi aditya murder case 2टीम के साथ आए श्वान ने मृतक किशोर के स्वेटर से उसकी गतिविधियों की समीझा की। श्वान ने मृतक किशोर आदित्य राज के कपड़े को सूंघकर उन स्थानों तक गई, जहां मृतक के जाने की संभावना थी।

      श्वान खेत से खंधे के विभिन्न‌ जगहों तक जाकर रूक गई। उसके आगे की मंजिल तक श्वान ने जाने में असमर्थता दिखाई।

      गौरतलब रहे कि चंडी थाना क्षेत्र के जलालपुर गांव में राज मिस्त्री के काम में लगे रंजन‌ कुमार के 14 वर्षीय पुत्र आदित्य राज मंगलवार को अपने घर नहीं पहुंचा तो परिजन परेशान हो गये।

      देर शाम तक उसकी खोजबीन होते रहा। घर के लोगों ने नाते रिश्तेदार आदि के यहां भी पता कर लिया, लेकिन आदित्य वहां नहीं पहुंचा।

      बुधवार सुबह को फिर से घर के लोगो तथा पड़ोसियों ने उसकी खोजबीन शुरू कर दी। बाद में किसी के सूचना पर गांव से दूर एक खंधे के खाई में मिट्टी से सनी उसकी लाश मिली।

      मृतक किशोर की लाश मिलते ही क्षेत्र में सनसनी फैल गई। लापता किशोर की लाश ‌मिलते ही सैकड़ो लोगों की भीड़ जमा हो गई।

      एक स्थानीय संवाददाता ने नालंदा दर्पण को बताया कि मृतक का गला दबा कर हत्या कर उसके शव को खाई में फेंक कर उस पर मिट्टी डाल दिया गया था, ताकि किसी की नजर न पड़े।

      घटना की सूचना मिलते ही चंडी थाना पुलिस मौके पर पहुंची उसके बाद हत्यारों का सुराग तलाशने के लिए डॉग स्कावड टीम को बुलाया गया।

      श्वान दस्ते ने हत्यारे का सुराग तलाशने के बहुत कोशिश की, लेकिन उसके हाथ खाली रहा।

      इधर मृतक किशोर के परिजन का कहना है कि उनका किसी से किसी प्रकार की कोई दुश्मनी भी नहीं है। वे रोज कमाने वाले व्यक्ति है। उनके पुत्र का भी किसी से ज्यादा लगाव नहीं रहा है। पुलिस हत्यारे की तलाश में लगी हुई है।

      गांव में ऐसी चर्चा है कि आखिर जब शव मिट्टी में लिपटा था तो उस पर किसी की नजर कैसे गई,और क्यों गई? फिलहाल यह पुलिस जांच का मामला है।

      संबंधित खबर

      error: Content is protected !!