अन्य

    चंडी के खंडहरनुमा ‘कर्पूरी भवन’ के जीर्णोद्धार के लिए आरटीआई कार्यकर्ता ने सीएम-डीएम को पत्र लिखा

    चंडी (नालंदा दर्पण)। एक्सपर्ट मीडिया न्यूज़ नेटवर्क की साइट ‘नालंदा दर्पण’ में प्रसारित खबर ‘एक बदकिस्मत इमारत बन कर रह गई है चंडी का कर्पूरी भवन’ का शायद अब दिन बहुरेंगे।

    इस खबर को पढ़कर हमारे एक जागरूक पाठक सह आरटीआई कार्यकर्ता उपेंद्र प्रसाद सिंह ने  सीएम और नालंदा डीएम को मेल भेजकर कर्पूरी भवन के जीर्णोद्धार की मांग की है।

    उन्होंने बिहार के सीएम नीतीश कुमार और नालंदा डीएम शशांक शुभंकर को मेल भेजकर कहा है कि चंडी मंदिर के पीछे जो कर्पूरी भवन है, वह वर्षों से जीर्णोद्धार की बाट जोह रही है। लेकिन इस पर आज तक किसी का ध्यान नहीं दिया गया। इस खंडरनुमा इमारत का जीर्णोद्धार कर इसे एक सुंदर इमारत की शक्ल देकर इसका उपयोग सरकरी कार्यालय या किसी अन्य कार्य के लिए लाया जा सकता है।

    उपेन्द्र प्रसाद सिंह ने सीएम से गुहार लगाई है कि इस भवन को एक धरोहर के तौर पर भी विकसित किया जा सकता है।ऐसे इमारतों को संरक्षित भी किया जा सकता है। अगर खंडहरनुमा इस इमारत की देखभाल या संरक्षण नहीं किया गया तो आनेवाले समय में यह इमारत अतिक्रमणकारियों के कब्जे में चला जाएगा। अगर सीएम नीतीश कुमार की कृपा बनी रही तो चंडी की जनता को एक धरोहर भवन भी मिल सकेंगे।

    उल्लेखनीय है कि कर्पूरी ठाकुर की जयंती पर खंडनुमा हो चुके कर्पूरी भवन की खबर को ‘नालंदा दर्पण’ ने प्रमुखता से उठाई थी।

    एक बदकिस्मत इमारत बन कर रह गई चंडी का कर्पूरी भवन !

    अपराध पर अंकुश लगाने में पुलिस विफल, किसान के घर 8 लाख की भीषण डकैती

    पान समाज की ओर से चंडी प्रखंड प्रमुख का किया गया अभिनंदन

    अनुमंडलीय आंचलिक पत्रकार संघ के पत्रकारों ने काला बिल्ला लगाकर समाचार संकलन किया

    सोहसराय जहरीली शराब कांड का मुख्य आरोपी सुनीता मैडम पुत्र समेत गिरफ्तार