अन्य
    Sunday, July 21, 2024
    अन्य

      वाह, राजगीर के इस युवा दिव्यांग मतदाता के कर्तव्य को सलाम !

      श्री जितेन्द्र कुमार एक दिव्यांग युवा मतदाता हैं और वे मध्य विद्यालय मुरौरा अवस्थित मतदान केन्द्र संख्या-15 पर बड़े स्वभिमान के साथ अपने अधिकार का प्रयोग करते दिख रहे हैं....

      नालंदा दर्पण डेस्क। भारतीय संविधान में यदि एक आम भारतीय नागरिक को अंतिम अधिकार दिया है तो वह है वोट का अधिकार। इस अधिकार से ही हम लोकतंत्र के सभी स्तंभों पर बखूबी नियंत्रित कर सकते हैं। उसमें बदलाव ला सकते हैं।

      RAJGIR NALANDA ELECTION VOTING 1दिक्कत यही है कि देश में एक बड़ा समूह इस अधिकार को लेकर उस स्तर पर जागरुक नहीं हो पाए हैं, जो बैशाली की गर्भ से निकले वैश्विक लोकतंत्र की सफलता के लिए अहम हैं।   

      बहरहाल, नालंदा जिले के राजगीर विधान सभा क्षेत्र की एक ऐसी तस्वीरें सामने आई है, जो लोकतंत्र के प्रति जागरुकता और उत्साह की मिसाल पेश करती है। श्री जितेन्द्र कुमार एक दिव्यांग युवा मतदाता हैं और वे मध्य विद्यालय मुरौरा अवस्थित मतदान केन्द्र संख्या-15 पर बड़े स्वभिमान के साथ अपने अधिकार का प्रयोग करते दिख रहे हैं।

      वेशक वे जिस उमंग से मतदान करते दिख रहे हैं, वह उन जैसे पढ़े-लिखे अनपढ़ों के मुँह पर एक तमाचा है, जो “हमरा देवे से और न देबे से को फरक होवअ हय” की मूर्खतापूर्ण दलील के साथ मतदान के दिन घरों में सोए रहते हैं और फिर उसके बाद पाँच साल तक व्यवस्था को गरियाते-कोसते रहते हैं।RAJGIR NALANDA ELECTION VOTING 1

      संबंधित खबर

      error: Content is protected !!