अन्य
    Saturday, May 25, 2024
    अन्य

      शराबबंदी को लेकर अपर मुख्य सचिव मद्य निषेध, उत्पाद एवं निबंधन विभाग ने की बैठक

      बिहार शरीफ (नालंदा दर्पण)। अपर मुख्य सचिव मद्य निषेध,उत्पाद एवं निबंधन विभाग श्री के के पाठक ने आज हरदेव भवन सभागार में जिला में मद्य निषेध के क्रियान्वयन को लेकर बैठक किया।

      बैठक में जिलाधिकारी शशांक शुभंकर द्वारा मद्य निषेध से संबंधित मामलों के ट्रायल की स्थिति, दर्ज कांड, गिरफ्तारी, जप्त अवैध शराब, जप्त वाहन, जप्त वाहनों के राज्यसात/ नीलामी/फाइन देकर मुक्त करने की स्थिति आदि के बारे में पावर पॉइंट के माध्यम से जानकारी दी गई।

      उनके द्वारा मद्य निषेध अधिनियम के सख्ती से क्रियान्वयन को लेकर आवश्यक दिशा निदेश दिया गया।

      मद्य निषेध से संबंधित दर्ज कांडों के ट्रायल में समय से गवाही कराते हुए प्रक्रिया में तेजी लाने को कहा गया। इस अधिनियम के तहत दर्ज मामलों का समानुपातिक बंटवारा सभी प्राधिकृत अधिवक्ताओं के बीच सुनिश्चित करने को कहा गया ताकि मामलों के ट्रायल में तेजी आ सके।

      जप्त शराब का सैंपल सुरक्षित रख कर शेष स्टॉक का विधिवत एवं त्वरित विनष्टीकरण सुनिश्चित करने को कहा गया। वर्त्तमान में हाल में जप्त लगभग 3 हजार लीटर शराब  विनष्टीकरण हेतु शेष पाया गया, जिसका अविलंब विनष्टीकरण सुनिश्चित करने को कहा गया।

      जप्त वाहनों की भी विधिवत एवं त्वरित नीलामी/फाइन के आधार पर विमुक्ति सुनिश्चित करने का निदेश दिया गया।

      स्पिरिट का उपयोग करने वाले सभी व्यवसायिक प्रतिष्ठानों की नियमित रूप से जांच करा कर स्टॉक सत्यापन सुनिश्चित कराते रहने का निर्देश दिया गया।

      अवैध शराब का कारोबार करने वाले, विशेष रुप से निर्माता एवं आपूर्तिकर्त्ता के विरुद्ध छापामारी एवं गिरफ्तारी में तेजी लाने का निर्देश दिया गया। ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट नियमित रूप से सुनिश्चित करने को कहा गया।

      शराब के अवैध कारोबार को लेकर जिला के चिन्हित सभी भेद्य क्षेत्रों में निरंतर छापामारी अभियान चलाते रहने का निर्देश दिया गया।

      अवैध शराब निर्माण/व्यापार/सेवन में लिप्त हार्डकोर अपराधियों के विरुद्ध सीसीए के तहत भी कार्रवाई सुनिश्चित करने को कहा गया।

      जिला में वर्त्तमान सीजन में लगभग 11 लाख लीटर नीरा का उत्पादन किया गया है। नीरा उत्पादन जिला में 92 प्रोड्यूसर ग्रुप द्वारा किया जा रहा है। हर जगह से नीरा कलेक्शन हेतु लगातार प्रयासरत रहने को कहा। उन्होंने ताड़ी टैपिंग करने वालों के विरुद्ध भी कार्रवाई करने को कहा।

      बैठक में जिलाधिकारी शशांक शुभंकर, पुलिस अधीक्षक अशोक मिश्रा, अपर समाहर्त्ता मंजीत कुमार, सभी अनुमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, उत्पाद अधीक्षक, डीपीएम जीविका, विशेष अधिवक्ता उत्पाद दिलिप कुमार सिंह एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!