अन्य
    अन्य

      चंडी में मनाया गया भाकपा माले संस्थापक महासचिव चारु मजुमदार का शहादत दिवस

      चंडी (नालंदा दर्पण)। भाकपा माले के संस्थापक सदस्य सह महासचिव चारू मजूमदार की 49वीं शहादत दिवस चंडी में मनाया गया। चंडी में उनके चित्र पर सदस्यों ने माल्यार्पण कर उन्हें याद किया।

      इस मौके पर इंकलाबी नौजवान सभा के जिलाध्यक्ष सह राज्यपरिषद सदस्य कॉमरेड विरेश कुमार ने कहा कॉमरेड चारु मजूमदार की हिरासत में हत्‍या के 49 साल पूरे हो रहे हैं ,भाकपा (माले) के पुनर्गठन के 47 साल पूरे हो रहे हैं।

      आज उस 70 के तूफानी दशक के करीब 50 साल पूरे होने वाले हैं जिसका अंत 1975 में आपातकाल लगाने से हुआ था। आज एक बार फिर राज्‍य आपातकाल के दौर वाले दमनकारी चेहरे के साथ फिर से हाजिर है।

      यह उत्‍पीड़न और क्रूरता के मामले में अंग्रेजों के शासन को भी मात दे रहा है। इतना खुले आम दमन हो रहा है कि अदालतों को बार-बार आगाह करना पड़ रहा है कि  सरकार द्वारा अंधाधुंध दमन संवैधानिक लोकतंत्र के ढांचे के खिलाफ है।

      उन्होंने कहा कि कॉमरेड चारु मजूमदार के आखिरी शब्‍द थे – जनता के हित को सर्वोपरि रखो और हर हाल में पार्टी को जिंदा रखो। 1970 के दशक के धक्‍के के दौरान यही शब्‍द पार्टी के दिशा निर्देशक थे।

      आज जब हम मोदी सरकार 2.0 और कोविड 2.0 के घातक और चुनौतीपूर्ण दौर में हैं तो इसका मुकाबला करने के लिए उसी तरह की भावना की जरूरत है। परिस्थितियों की मांग के अनुरूप पार्टी को तैयार करते हुए जब हम विभिन्‍न मोर्चों पर संघर्ष की तैयारी में हैं तो ऐसे में किसी भी तरह की निष्क्रियता और ढिलाई की कोई गुंजाइश नहीं है।

      कार्यक्रम में शामिल सुखनंदन पासवान, झपसी मांझी, लाल मुनि देवी, संगीता देवी, सवीता देवी, राजीव मांझी, ओजीर मांझी, संजना देवी, उद्देश्य मांझी, बिपीन मांझी समेत दर्जनों कार्यकर्ता शामिल हुए तथा चारू मजूमदार के चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें याद किया।

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

      Related News