26 C
Patna
Tuesday, October 19, 2021
अन्य

    चंडी थानेदार ने बेजुबानों के हत्यारा को यूं सहमति कराकर छोड़ा, अब महादलितों को जान मारने की धमकी

    नालंदा जिला किशोर न्याय परिषद के प्रधान दंडाधिकारी मानवेन्द्र मिश्र ने एक किशोर मामले में चंडी थानाध्यक्ष खिलाफ कड़ी टिप्पणी करते हुए प्रशिक्षण प्राप्त करने के आदेश दिए थे। फिर भी इस थानेदार की लापरवाही में कमी नहीं आ रही है....

    Expert Media News Video_youtube
    Video thumbnail
    बंद कमरा में मुखिया पति-पंचायत सेवक का देखिए बार बाला डांस, वायरल हुआ वीडियो
    01:37
    Video thumbnail
    नालंदाः सूदखोरों ने की महादलित की पीट-पीटकर हत्या, देखिए EXCLUSIVE Video रिपोर्ट
    05:26
    Video thumbnail
    नालंदाः नगरनौसा में अंतिम दिन कुल 107 लोगों ने किया नामांकण
    03:20
    Video thumbnail
    नालंदा में फिर गिरा सीएम नीतीश कुमार की भ्रष्ट्राचारयुक्त निश्चय योजना की टंकी !
    03:49
    Video thumbnail
    नगरनौसा में पांचवें दिन कुल 143 लोगों ने किया नामांकन पत्र दाखिल
    03:45
    Video thumbnail
    नगरनौसा में आज हुआ भेड़िया-धसान नामांकण, देखिए क्या कहते हैं चुनावी बांकुरें..
    06:26
    Video thumbnail
    नालंदा विश्वविद्यालय में भ्रष्ट्राचार को लेकर धरना-प्रदर्शन, बोले कांग्रेस नेता...
    02:10
    Video thumbnail
    पंचायत चुनाव-2021ः नगरनौसा में नामांकन के दौरान बहाई जा रही शराब की गंगा
    02:53
    Video thumbnail
    पिटाई के विरोध में धरना पर बैठे सरायकेला के पत्रकार
    03:03
    Video thumbnail
    देखिए वीडियोः इसलामपुर में खाद की किल्लत पर किसानों का बवाल, पुलिस को पीटा
    02:55

    चंडी (नालंदा दर्पण )। चंड़ी थाना क्षेत्र के भगवानपुर महादलित टोला में आधा दर्जन बेजुबान बतखों को एक निर्मम इंसान के द्वारा जहर देकर निर्मम तरीके से मौत की नींद सुला दिया गया।

    Today a dozen of these innocent people have taken their lives why is Chandi the police station silent 1इस खबर को नालन्दा दर्पण पर प्रमुखता से प्रसारित किया गया। जिसके बाद हरकत में आई चंडी थाने की पुलिस ने उक्त अपराधी को दबोच लिया। लेकिन बाद में आपसी समहमति हो जाने के आधार पर आरोपी को छोड़ दिया गया।

    रूबी देवी,राजपति,लाखों देवी ने बताया कि वे सब दर्जनों महिलाओं  के साथ मृत बत्तखें लेकर थाना पहुंचे थे।

    इसके बाद में चंडी थाना पुलिस ने उस आरोपित के पक्ष में जा कर हरेक मृत बतख का मुआवजा के तौर पर तीन सौ रुपये दाम लगाया।

    उन्होंने आगे बताया कि हम लोगों ने थानाध्यक्ष की बात मानते हुए थाना परिसर में सुलह कर लिए। लेकिन मुआवजे की राशि लेने से साफ इन्कार कर गए। थानेदार शिकायत दर्ज नहीं करना चाहते थे।

    उन्होंने बताया कि तीन सौ रुपये लेकर क्या करंगे। इसलिए मायूस होकर मुआवजे की रकम भी आरोपित को माफ कर दिए गए।

    इधर मुआवजे की रकम माफ करने के बाबजूद आरोपित के परिजन को एहसान मानना चाहिए था, लेकिन एहसान मानना तो दूर, आरोपित व उसके समर्थक महादलित टोला पर जा कर बेजुबान बतखों के मालिक को लगातार धमकी दे रहे हैं कि अभी तो सिर्फ बत्तख मरा है, आगे दो चार मुशहर मरोगे। तब समझ में आएगा।

    बता दें कि भारतीय संबिधान के आईपीसी सेक्शन-429 के तहत किसी भी पशु-पक्षी की हत्या करना गैरकानूनी है। जिसपर कार्यवाही करने के बजाय चंडी थानाध्यक्ष ऋतुराज ने मामले की लीपापोती करना ही मुनासिब समझा।

     

    आज दर्जन भर इन बेजुवां की जान इंसान ने ली है, चुप क्यों है चंडी थानेदार ?

    नगरनौसा पुलिस पर हमला मामले में 2 नामजद सहित 50-60 अज्ञात पर एफआईआर, 2 गिरफ्तार

    नगरनौसा प्रखंड में चुनावी हिंसा,रामपुर में ग्रामीण-पुलिस में हिंसक झड़प,खजुरा में थानेदार का वाहन क्षतिग्रस्त, एक पुलिसकर्मी समेत 6 लोग जख्मी

    चौबंद व्यवस्था के बीच नगरनौसा प्रखंड में मतदान जारी, बमपुर और सैदपुर में बने हैं वेबकास्टिंग केन्द्र

    श्री सिद्घपीठ माँ दुर्गा बडी देवी मंदिर में कलश स्थापना के साथ शारदीय नवरात्रा शुरु

     

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    संबंधित खबरें

    326,897FansLike
    8,004,563FollowersFollow
    4,589,231FollowersFollow
    235,123FollowersFollow
    5,623,484FollowersFollow
    2,000,369SubscribersSubscribe