December,2,2021
17 C
Patna
Thursday, December 2, 2021
अन्य

    तुलसीगढ़ पंचायत में सरकारी योजनाओं घोर अनियमितता व लूट-खसोंट

    नालंदा दर्पण डेस्क। चंडी प्रखंड के तुलसीगढ़ पंचायत में सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में घोर अनियमितता कर विकास की राशि का बड़े पैमाने पर लूट किया गया है।

    Government schemes gross irregularities and loot in Tulsigarh Panchayat 3जल जीवन हरियाली योजना में पेड़ लगाने के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति कर मुखिया के द्वारा राशि गबन करने की शिकायत मुख्यमंत्री, अपर पुलिस महानिदेशक, निगरानी अन्वेषण ब्यूरो, जिलाधिकारी नालंदा और जिला परिषद अध्यक्ष के यहां विधान पार्षद प्रतिनिधि प्रो अजय कुमार सिंह ‘राठौर’ ने की है।

    विधान पार्षद प्रतिनिधि प्रो अजय कुमार सिंह ‘राठौर’ ने नालंदा दर्पण से बातचीत करते हुए कहा कि तुलसीगढ़ पंचायत में लूट एवं घोर अनियमितता देखने को मिलता है।

    उन्होंने आरोप लगाया कि वार्ड संख्या नौ में कई वर्ष पूर्व गली में बिछाये गये ईंट सोलिंग तथा नरेगा एवं 14वीं वित आयोग के द्वारा कराये गये कार्य पर वार्ड की राशि द्वारा कार्य दिखाकर राशि निकाल ली गई है।

    वार्ड संख्या नौ में तो विकास का एक भी कार्य नहीं हुआ है। गांव के पश्चिम तरफ जगदम्बा स्थान के अगल बगल के घरों के पास एक रूपए का काम नहीं हुआ है।

    विधान पार्षद प्रतिनिधि ने जिला परिषद अध्यक्ष से लेकर मुख्यमंत्री तक इसकी शिकायत की है।

    Government schemes gross irregularities and loot in Tulsigarh Panchayat 2उन्होंने अपने शिकायत पत्र में लिखा है कि पूरे पंचायत में प्रधानमंत्री-मुख्यमंत्री स्वच्छता मिशन के द्वारा शौचालय निर्माण का कार्य मुखिया स्वयं कराकर लाभुक के खाते से राशि निकाल ली है। पंजाब नेशनल बैंक चंडी और तुलसीगढ़ में जांच करने पर स्थिति स्पष्ट हो जाएगी।

    यहां तक कि पंचायत में सात निश्चय योजना का कार्यान्वयन इस पंचायत में सही ढ़ंग एवं प्राक्कलन के अनुसार नहीं कराया गया है। सभी योजनाओं में अनियमितता कर राशि की लूट की गई है।

    प्रो अजय कुमार सिंह ‘राठौर’ ने कहा कि चुनाव बाद वे न्यायालय में एक जनहित याचिका डाल रहें हैं जिसमें पंचायत में विकास कार्यों की राशि की लूट कर विकास को बाधित करने वालों पर कानूनी कार्रवाई हो सकें।

    इस संबंध में निवर्तमान मुखिया का पक्ष जानने के लिए नालंदा दर्पण ने संपर्क किया लेकिन संपर्क नहीं हो सका।

    1 COMMENT

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

    Related News