अन्य
    अन्य

      किशोर न्याय परिषद की हुई विशेष बैठक में निपटाए गए रिकार्ड 180 मामले

      नालंदा दर्पण डेस्क। बिहारशरीफ व्यवहार न्यायालय स्थित किशोर न्याय परिषद की विशेष बैठक में रिकार्ड 180 मामलों का निपटारा किया गया। इस विशेष बैठक की सफलता को लेकर जिला जज डॉ. रमेशचंद्र द्विवेदी ने वकीलों एवं किशोर के अभिभावकों से मामले निपटारे में सहयोग की अपील की थी।

      किशोर न्याय परिषद के प्रधान दंडाधिकारी ने मानवेंद्र मिश्रा ने निरंतर अभिलेखों का निरीक्षण कर किशोर से पूछताछ कर मामलों को निपटाया। पूरे दिन जिला जज आवास पर रहकर बैठक की जानकारी लेते रहे।

      जज मिश्रा ने कोविड-19 का ख्याल रखते हुए सामाजिक दूरी बनाकर लोगों को पंक्ति में खड़े रहने की अपील की। इसके बाद एक-एक किशोरों को पुकारा गया और मुकदमे की स्थिति को देखते हुए उन्हें छोड़ा गया।

      कुछ मामले में बच्चे के भविष्य को देखते हुए माता-पिता द्वारा अच्छी तरह से देखभाल किए जाने के आश्वासन पर उन्हें सौंपा।

      कई मामलों में पुलिस एवं प्रोबेशन पदाधिकारी के द्वारा बच्चों की भूल, प्रलोभन एवं लालच में आने के बाद मामले में शामिल रहने एवं भविष्य में इसमें सुधार की गुंजाइश होने के प्रतिवेदन के आधार पर रिहा किया।

      कई मामलों में पुलिस द्वारा निर्धारित समय पर आरोप पत्र समर्पित नहीं करने के कारण मामले को खत्म कर दिया गया।

      इनमें 49 मामले साधारण प्रकृति यानी मारपीट, शस्त्र बरामदगी व चोरी से जुड़े थे। वहीं 126 मामले गंभीर अपराध के थे। पांच मामले हत्या, शराब बरामदगी जैसे जघन्य मामले भी शामिल किये गये थे।

       

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

      Related News