अन्य
    Thursday, July 18, 2024
    अन्य

      सड़क जाम से एम्बुलेंस में हुई मौत मामले में यातायात डीएसपी और थानाध्यक्ष पर कार्रवाई की माँग

      बिहारशरीफ (नालंदा दर्पण)। राष्ट्रीयवादी काँग्रस पार्टी के जिलाध्यक्ष राजकुमार पासवान ने प्रेस वयान जारी कर कहा है कि बिहारशरीफ में सड़क जाम के कारण एम्बुलेन्स में मरीज की मृत्यु हो जाने के कारण दोषी यातायात पुलिस उपाधीक्षक एवं यातायात प्रभारी पर कार्यवाई होनी चहिये।

      सड़क जाम से एम्बुलेंस मे हुई मौत मामले में यातायात डीएसपी और थानाध्यक्ष पर कार्रवाई की माँग 1उन्होंने कहा कि नालन्दा जिला में अभी सड़क जाम की समस्या रोज बनी रहती है। जिसके कारण आम लोगों को काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। अभी वर्तमान में 19 अगस्त 2023 को बिहारशरीफ में सड़क जाम रहने के कारण एम्बुलेंस जाम में फंसी रही। जिसके कारण नालन्दा जिला के सिलाव प्रखण्ड के कड़ाह गाँव के निवासी स्व. मो० शेख, जो बिहारशरीफ के निजी क्लिनिक से भगवान महावीर आर्युविज्ञान संस्थान, पावापुरी नालन्दा रेफर हुये थे, वे जाम के वजह से अस्पताल नहीं पहुँच पाये और रास्ते में उनकी मृत्यु हो गयी।

      इसकी खबर स्थानीय सामाचार पत्रों एवं सोशल मीडिया पर प्रकाशित हुआ है। जो काफी गंभीर मामला है। जबसे यातायात डीएसपी एवं यातायात प्रभारी का पदस्थापन हुआ है। इन लोगों को आम नागरिकों से कोई लेना देना नहीं है। सिर्फ खानापूर्ति करने के लिये संध्या 4 बजे से शहर के व्यस्तम चौक अस्पताल चौक के पास हेलमेट चेकिंग के नाम पर लोगों से फाईन के नाम पर बसुली कर रहे हैं। जो कि पकड़े गये वाहन एवं की गयीं फाईन की जाँच शहर में लगे सरकारी सीसीटीवी कैमरे से कराने से मामला उजागर होगा।

      इतना ही नहीं, हमने कई बार इस मामला को लेकर भवदीय के यहाँ आवेदन दिया था। लेकिन किसी तरह का कोई कार्रवाई नहीं किया गया है। जिसके कारण दोनों पदाधिकारी का मनोबल का बढ़ता जा रहा है।

      श्री पासवान ने राज्य के मुख्यमंत्री एवं गृह सचिव और मानवाधिकार से उच्चस्तरीय जाँच की माँग किया है और यह भी कहा है कि जिस तरह यातायात डीएसपी एम्बुलेंस चालक पर दवाव बना रहे है, वह सरासर गलत है। अपनी नकामी छुपाने के लिए एम्बुलेंस चालक पर दवाव बनाया जा रहा है। जिसका राष्ट्रीयवादी काँग्रेस पार्टी विरोध करती है। यातायात डीएसपी और यातायात थानाध्यक्ष अगर एम्बुलेंस चालक पर दवाव बनाकर मामले को ठंडे बस्ते मे डलने का कार्य कर रहे है ।

      उन्होंने सारे मामले की उच्चस्तरीय जाँच कर दोषी पदाधिकारियों पर कार्रवाई करने एवं जाम के कारण हुए मौत से मृतक के परिवार को सरकारी लाभ प्रदान करने की मांग की है।

      संबंधित खबर

      error: Content is protected !!