26 C
Patna
Tuesday, October 19, 2021
अन्य

    सरकारी उपेक्षा का शिकार राजगीर कन्या मध्य विद्यालय की जमीन पर अतिक्रमण

    Expert Media News Video_youtube
    Video thumbnail
    बंद कमरा में मुखिया पति-पंचायत सेवक का देखिए बार बाला डांस, वायरल हुआ वीडियो
    01:37
    Video thumbnail
    नालंदाः सूदखोरों ने की महादलित की पीट-पीटकर हत्या, देखिए EXCLUSIVE Video रिपोर्ट
    05:26
    Video thumbnail
    नालंदाः नगरनौसा में अंतिम दिन कुल 107 लोगों ने किया नामांकण
    03:20
    Video thumbnail
    नालंदा में फिर गिरा सीएम नीतीश कुमार की भ्रष्ट्राचारयुक्त निश्चय योजना की टंकी !
    03:49
    Video thumbnail
    नगरनौसा में पांचवें दिन कुल 143 लोगों ने किया नामांकन पत्र दाखिल
    03:45
    Video thumbnail
    नगरनौसा में आज हुआ भेड़िया-धसान नामांकण, देखिए क्या कहते हैं चुनावी बांकुरें..
    06:26
    Video thumbnail
    नालंदा विश्वविद्यालय में भ्रष्ट्राचार को लेकर धरना-प्रदर्शन, बोले कांग्रेस नेता...
    02:10
    Video thumbnail
    पंचायत चुनाव-2021ः नगरनौसा में नामांकन के दौरान बहाई जा रही शराब की गंगा
    02:53
    Video thumbnail
    पिटाई के विरोध में धरना पर बैठे सरायकेला के पत्रकार
    03:03
    Video thumbnail
    देखिए वीडियोः इसलामपुर में खाद की किल्लत पर किसानों का बवाल, पुलिस को पीटा
    02:55

    राजगीर ( नालंदा दर्पण )। राजगीर अनुमंडल मुख्यालय नगर के उपाध्याय टोला स्थित कन्या मध्य विद्यालय स्थानीय छात्राओं का इकलौता मध्य विद्यालय है, जो स्थानीय अधिकारियों एवं शिक्षा विभाग की लापरवाही के वजह से अब तक उपेक्षा का शिकार है। इसकी बाउंड्री तक नहीं हो सकी है।

    Encroachment on the land of Rajgir Girls Middle School a victim of government neglect nalandaअपुष्ट खबरों के मुताबिक कन्या मध्य विद्यालय की 17 डिसमिल जमीन है और  अतिक्रमण कारी लगातार चारों ओर से इसका अतिक्रमण करते आए हैं और अब हाल यह है कि इसके दक्षिण स्थित शौचालय की टंकी को मार्ग के अतिक्रमण कारी ध्वस्त कर इस पर सड़क निर्माण करने को तैयार हैं।

    चुकि यह विद्यालय उपाध्याय टोला में अवस्थित स्थित है और इसकी जमीन के अतिक्रमण में इस मोहल्ले के लोग शामिल हैं। हर कोई इस विद्यालयके अस्तित्व को खत्म करने पर उतारु है।

    परिणामस्वरूप टोला को कोई भी आदमी इसका विरोध करने के लिए सामने आने को तैयार नहीं है। वहीं स्थानीय नगर पंचायत, अंचल और अनुमंडल के अधिकारी मूकदर्शक बने हुए हैं, जो कि व्यवस्था पर सीधे सवाल उठा रहे हैं।

     

    इसलामपुर में चुनाव प्रचार के दौरान मुखिया प्रत्याशी की सड़क हादसा में मौत

    चुनाव चिन्ह आवंटन की खुशी, बंद कमरा में मुखिया पति-पंचायत सेवक का देखिए बार बाला डांस, वायरल हुआ वीडियो

    सरमेराः नदी में डूबने से 4 बहनों की मौत, अवैध बालू उत्खनन ने ली जान

    ओबीसी कोटा से डीएसपी बनी श्वेता का गांववासियों ने यूं किया स्वागत

    अस्थावां की बेटी को खिजरसराय में जलाकर मार डाला, आरोपी पति शव जलाते गिरफ्तार

     

    5 COMMENTS

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    संबंधित खबरें

    326,897FansLike
    8,004,563FollowersFollow
    4,589,231FollowersFollow
    235,123FollowersFollow
    5,623,484FollowersFollow
    2,000,369SubscribersSubscribe