अन्य
    Sunday, July 21, 2024
    अन्य

      किसान महापंचायत की तैयारी को लेकर मोर्चा के लोगों ने इसलामपुर में किया जनसंपर्क

      इसलामपुर (नालंदा दर्पण)।  संयुक्त किसान मोर्चा बिहार के तत्वाधान में किसान महापंचायत ऐतिहासिक नगरी राजगीर के मेला मैदान में 26 नम्वर 22 को आयोजित किया जाएगा।  इसकी तैयारी को लेकर मोर्चा के लोग अपने सहयोगियों के साथ इसलामपुर पहुंचे  और लोगों से संपर्क कर महापंचायत को सफल बनाने की अपील की।

      इस दौरान सुभाष यादव ने कहा कि इस महापंचायत में बिहार के प्रत्येक जिलों से किसान काफी संख्या में भाग लेगें।

      Morcha people did public relations in Islampur regarding the preparation of Kisan Mahapanchayatमोर्चा के संयोजक मंडल सदस्य जवाहर निराला ने कहा कि सरकार के द्वारा 75वीं बर्ष अमृत महोत्सब के नाम पर करोड़ों रुपया खर्च किया जा रहा है  और किसान अपनी फटेहाली की गुहार इस पूंजीपति सरकार के सामने आंदोलन के माध्यम से कर रहे है, क्योंकि सरकार उधोगपतियो को फायदा पहुंचा रही है  और किसान मजदूरों को फटेहाल जिंदगी जीने को मजवुर कर रही है, जबकि देश की अवादी 80 प्रतिशत किसान मजदूरों का है, जो आबश्यक बस्तुओं का क्रय करती है, और उपर से टैक्स देती है, और बड़े बड़े उधोगपतियो टैक्स चोरी कर अरबो रुपये लुट खरबपति बन बैठे है, किसान गरीवी रेखा से नीचे जीबन बसर करने के लिए वाध्य हो गये है, जबकि देश की रक्षा किसान मजदूर के बेटे ही सीमा पर शहीद हो रहे है, उनकी भी उपेक्षा कर रही है, किसान कठोर मेहनत कर फसल उपजाते है, लेकिन उसका कीमत जमाखोरों निर्घारण करते है, आजादी के 75 वर्ष वाद भी सरकार की कांन पर जू नही रेंग रही है, इस प्रकार की आदि ज्वलंत समस्याओं को लेकर किसान मजदूर परिबर्तन की लड़ाई के लिए उठ खड़ा हो रहे है, और अपनी मांगो की हक की लड़ाई के लिए आंदोलन खड़ी कर रहे है, मांगो मे सरकार एमएसपी न्यूनतम समर्थन मूल्य लागू करे, राजगृह मे बर्षो से वंद पड़े कृषि महाविद्यालय एंब कृषि शोध संस्थान को अविलंब चालू की जाने, सहित 13 सूत्री मांग शामिल है, ।

      इस मौके पर मोर्चा के उमरांव प्रसाद निर्मल, सुरेंद्र यादव, अरविंद कुमार शर्मा, सुएव आलम आदि लोग मौजूद थे।

       

      संबंधित खबर

      error: Content is protected !!