अन्य
    Thursday, July 18, 2024
    अन्य

      सरकार ने दलित को महादलित बताकर एक भ्रम फैलाने का काम किया : सुरेंद्र पांचाल विश्वकर्मा

      राजगीर (नालंदा दर्पण)। राजगीर इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री भोला पासवान शास्त्री की 109वीं जयंती समारोह मनाया गया।

      इस कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि सुरेंद्र पांचाल विश्वकर्मा, विशिष्ट अतिथि रजनीश पासवान, अनुज पासवान, निरंजन पासवान, रेशमा पासवान ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया।

      इस मौके पर सुरेंद्र पांचाल विश्वकर्मा ने कहा कि दुसाध समाज को आज भी हर ऊंची जातियों के द्वारा समाज में वंचित रखा जाता है। सरकार उनके प्रति घोर अन्याय करने का काम कर रही है। वर्तमान में जो टोला सेवक की बहाली पूरे बिहार प्रदेश में निकली है, इस बहाली में पासवान जाति को मौका नहीं मिलना एक दुर्भाग्यपूर्ण है।

      उन्होंने कहा कि बिहार की वर्तमान सरकार दलित को महादलित बताकर एक भ्रम फैलाने का काम किया है। जिसके कारण दलित समाज में ही वह अनुसूचित जाति वर्ग के रहते हुए भी उन्हें अलग-अलग आरक्षण की व्यवस्था दी गई है। इसके कारण समाज में आपसी मतभेद पैदा होते रहते हैं।

      इस मौके पर रजनीश पासवान ने कहा कि केंद्र सरकार के द्वारा भी दलितों की आवाज दबाने का काम किया गया है। अगर हमारे देश में डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जैसे महान व्यक्ति अगर पैदा न लेते तो शायद हम इस मंच के काबिल न होते।

      उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के द्वारा संविधान में छेड़छाड़ कर धीरे-धीरे आरक्षण को बर्बाद किया जा रहा है, इसकी हम घोर निंदा करते हैं और आने वाले लोकसभा चुनाव में इसका जवाब हम अपने मतों से देंगे।

      उन्होंने पासवान जाति के नेता चिराग पासवान तथा पारस पासवान पर आरोप लगाते हुए कहा कि वे लोग सभी केंद्र में जाकर हम दलितों के प्रति कभी भी नहीं अच्छा सोचते हैं। अगर वह अच्छा सोचते हैं तो दूसरा जाति को दलित और महादलित जैसे समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ता।

      वही एकदिवसीय दुसाध सम्मेलन में उपस्थित महिला नेत्री रेशमा पासवान ने कहा कि हम महिलाओं के लिए जो केंद्र सरकार में आरक्षण की बात चल रही है, वह बस एक दिखावा किया जा रहा है वास्तविक तौर पर केंद्र सरकार हम महिलाओं को हक देना ही नहीं चाहती है।

      इस मौके पर अनुज पासवान, निरंजन पासवान, आरती कुमारी मेनका पासवान, रामस्वरूप पासवान, रंगबाज पासवान, राहुल पासवान, प्रिंस कुमार, चितरंजन पासवान, नरेश पासवान, सुनील पासवान, कामता पासवान, अवध पासवान, रंजीत पासवान, कृष्णा पासवान आदि लोग भी उपस्थित थे।

      संबंधित खबर

      error: Content is protected !!