26 C
Patna
Tuesday, October 19, 2021
अन्य

    पानी भरते ही फिर भरभराया सीएम की भ्रष्टाचारयुक्त योजना की जल-नल टंकी

    Expert Media News Video_youtube
    Video thumbnail
    बंद कमरा में मुखिया पति-पंचायत सेवक का देखिए बार बाला डांस, वायरल हुआ वीडियो
    01:37
    Video thumbnail
    नालंदाः सूदखोरों ने की महादलित की पीट-पीटकर हत्या, देखिए EXCLUSIVE Video रिपोर्ट
    05:26
    Video thumbnail
    नालंदाः नगरनौसा में अंतिम दिन कुल 107 लोगों ने किया नामांकण
    03:20
    Video thumbnail
    नालंदा में फिर गिरा सीएम नीतीश कुमार की भ्रष्ट्राचारयुक्त निश्चय योजना की टंकी !
    03:49
    Video thumbnail
    नगरनौसा में पांचवें दिन कुल 143 लोगों ने किया नामांकन पत्र दाखिल
    03:45
    Video thumbnail
    नगरनौसा में आज हुआ भेड़िया-धसान नामांकण, देखिए क्या कहते हैं चुनावी बांकुरें..
    06:26
    Video thumbnail
    नालंदा विश्वविद्यालय में भ्रष्ट्राचार को लेकर धरना-प्रदर्शन, बोले कांग्रेस नेता...
    02:10
    Video thumbnail
    पंचायत चुनाव-2021ः नगरनौसा में नामांकन के दौरान बहाई जा रही शराब की गंगा
    02:53
    Video thumbnail
    पिटाई के विरोध में धरना पर बैठे सरायकेला के पत्रकार
    03:03
    Video thumbnail
    देखिए वीडियोः इसलामपुर में खाद की किल्लत पर किसानों का बवाल, पुलिस को पीटा
    02:55

    नालंदा दर्पण डेस्क। सीएम नीतीश कुमार के गृह जिले की विकास योजनाओं में ग्रामीण स्तर पर जमकर लूट मचाई गई है, मचाई जा रही है।

    As soon as the water was filled the water tap tank of CMs corrupt scheme fell after filling up 2यही कारण है कि सीएम सात निश्चय योजना के तहत जल नल योजना की टंकियाँ कहीं उड़ रही है तो कहीं धाराशाही हो रही है और इस घपलेबाजी में शामिल पंचायत प्रतिनिधि से लेकर अफसर तक सभी चुनावी जश्न मनाने में जुटे हैं।

    खबर है कि इसलामपुर प्रखंड के मनीचक गांव में सात निश्चय योजना से लगी नल जल टंकी धाराशाही हो गई है। यह घटना बीते 20 सितंबर का है और इसका वीडियो लोग तेजी से वायरल कर रहे हैं। जोकि मनीचक वार्ड संख्या-06 रविदास टोला का बताया जाता है।

    ग्रामीणों के अनुसार इस टंकी के निर्माण में काफी घटिया सामाग्री का उपयोग किया गया था। कमजोर एंगल के कारण पानी भरते ही लोड के कारण टंकी भरभरा कर गिर गया। इससे लोगों को पीने के पानी की किल्लत का सामना करना पड रहा है।

    हालांकि, इसलामपुर प्रखंड क्षेत्र समेत समूचे जिले में भ्रष्ट्राचार की यह कोई पहली घटना नहीं है। ऐसे मामले आए दिन सामने आते रहे हैं। लेकिन प्रशासनिक स्तर पर कभी कोई कड़ी जाँच कार्रवाई नहीं की गई। इस कारण विकास योजनाओं के लुटेरे बेलगाम हैं।

     

     

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    संबंधित खबरें

    326,897FansLike
    8,004,563FollowersFollow
    4,589,231FollowersFollow
    235,123FollowersFollow
    5,623,484FollowersFollow
    2,000,369SubscribersSubscribe