अन्य
    Saturday, May 25, 2024
    अन्य

      ऐतिहासिक होगा बड़गांव छठ मेला, तैयारी में जुटा नालंदा नगर निकाय प्रशासन

      बड़गांव (नालंदा दर्पण)। इस वर्ष ऐतिहासिक बड़गांव छठ मेला का आयोजन भव्य तरीके से किया जायेगा। छठ व्रतियों एवं श्रद्धालुओं के लिये तमाम आवश्यक व्यवस्था नालंदा नगर निकाय एवं जिला प्रशासन नालंदा द्वारा की जा रही है।

      सोमवार को जिलाधिकारी द्वारा बड़गांव सूर्यमंदिर तालाब का स्थल निरीक्षण किया गया था तथा कुण्डलपुर जैन मंदिर प्रांगण में बैठक की गई थी। इस बैठक में ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार, नालंदा सांसद कौशलेंद्र कुमार,विधान परिषद सदस्य रीना देवी सहित स्थानीय जनप्रतिनिधिगण, गणमान्य लोग एवं पदाधिकारीगण शामिल हुये थे।

      बैठक में विभिन्न लोगों द्वारा बड़गांव छठ मेला में श्रद्धालुओं के लिये बेहतर नागरिक सुविधाओं को लेकर महत्वपूर्ण सुझाव दिये गये थे।

      प्राप्त सुझावों के आधार पर बेहतर नागरिक सुविधा उपलब्ध कराने एवं इनके उत्कृष्ट प्रबंधन को लेकर मंगलवार को जिलाधिकारी शशांक शुभंकर ने अनुमंडल कार्यालय राजगीर में सभी संबंधित पदाधिकारियों के साथ बैठक किया।

      इस बैठक में सिलाव प्रखंड के वरीय प्रभारी अपर समाहर्त्ता मंजीत कुमार, अपर समाहर्त्ता आपदा मो. शफ़ीक़, अनुमंडल पदाधिकारी राजगीर, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी राजगीर, भूमि सुधार उपसमाहर्त्ता राजगीर सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय पदाधिकारी,  कार्यपालक पदाधिकारी नगर पंचायत नालन्दा एवं अन्य स्थानीय पदाधिकारी शामिल थे।

      बड़गांव आने वाले व्रतियों एवं श्रद्धालुओं के आवासन के लिये तीन जगहों पर टेंट सिटी का निर्माण कराया जा रहा है। सूर्यमंदिर तालाब देवी स्थान के पास, बेगमपुर तिराहा एवं प्राथमिक विद्यालय के पास टेंट सिटी का निर्माण किया जा रहा है।

      नजारत उपसमाहर्त्ता कृष्ण कुमार उपाध्याय को सम्पूर्ण आवासन व्यवस्था का वरीय प्रभारी बनाया गया है। प्रत्येक आवासन स्थल के निर्माण  एवं देय सुविधाओं की मॉनिटरिंग के लिये अलग अलग पदाधिकारियों को नोडल पदाधिकारी बनाया गया है।

      सभी आवासन स्थलों के पास शौचालय, पेयजल, रोशनी की मुकम्मल व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया। प्रत्येक आवासन स्थल पर प्रशानिक नियंत्रण कक्ष बनाया जायेगा जिसमें दंडाधिकारी एवं पुलिस बल प्रतिनियुक्त रहेंगे।

      जिलाधिकारी ने आवासन स्थलों एवं शौचालयों की 24 घंटे साफ सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित कराने हेतु अलग अलग पालियों में सफाई कर्मियों को लगाने का निर्देश दिया। सफाई की मॉनिटरिंग आवासन स्थल के प्रतिनियुक्त नोडल पदाधिकारी सुनिश्चित करेंगे।

      सूर्यमंदिर तालाब मेला क्षेत्र में लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग द्वारा 45 प्रेफब्रिकेटेड अस्थाई शौचालय बनाया जायेगा। जिलाधिकारी ने इन शौचालयों की 24 घंटे साफ सफाई हेतु तीन पालियों में सफाई कर्मियों को प्रतिनियुक्त करने का निर्देश कार्यपालक अभियंता पीएचईडी को दिया। सफाई के पर्यवेक्षण हेतु अलग से पदाधिकारी को जिम्मेवारी दी गई।

      सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में रोशनी की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश नगर कार्यपालक पदाधिकारी को दिया गया। अंचलाधिकारी सिलाव को  इसका अनुश्रवण सुनिश्चित करने को कहा गया।

      सम्पूर्ण क्षेत्र में यातायात एवं पार्किंग की सुगम व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश जिला परिवहन पदाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी राजगीर एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी राजगीर को दिया गया। 24 घंटे साफ सफाई की व्यवस्था की मॉनिटरिंग भूमि सुधार उपसमाहर्त्ता राजगीर द्वारा की जायेगी।

      विधि व्यवस्था संधारण के लिये पर्याप्त संख्या में दंडाधिकारी एवं पुलिस बल प्रतिनियुक्त रहेंगे। सूर्य मंदिर में भी दंडाधिकारी एवं पुलिस बल प्रतिनियुक्त रहेंगे।

      कष्टी देते हुये घाट तक जाने वाले श्रद्धालुओं की सुविधा हेतु मंदिर से छठ घाट जाने वाले सम्पूर्ण रास्ते पर कार्पेट लगाया जायेगा। कार्पेट की भी साफ सफाई सुनिश्चित कराने के लिये सफाई कर्मियों को प्रतिनियुक्त करने का निर्देश दिया गया।

      सुधा डेयरी द्वारा सूर्यमंदिर तालाब के पास स्टॉल लगाकर दूध की उपलब्धता सुनिश्चित की जायेगी। मेला क्षेत्र के दोनों तरफ तोरणद्वार बनाया जायेगा। इसके साथ ही प्रशानिक नियंत्रण कक्ष एवं चिकित्सा सहायता केंद्र भी घाट पर कार्यरत रहेगा।

      जिलाधिकारी ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा इस वर्ष अलग से निधि उपलब्ध कराई गई है जिसका उपयोग श्रद्धालुओं को बेहतर से बेहतर सुविधा देने हेतु किया जा रहा है। प्रशासन का हरसंभव प्रयास होगा कि इस वर्ष आने वाले श्रद्धालुगण एक यादगार अनुभव लेकर यहाँ से जायें।

      वरदाहा पंचायत के उपमुखिया पुत्र समेत 3 सड़क लुटेरे गिरफ्तार

      30 नवंबर से 2 दिसबंर तक होगा राजगीर महोत्सव का आयोजन, जिलाधिकारी ने की बैठक

      राजगीर में 23 नवंबर को होगा एक दिवसीय जरासंध महोत्सव का आयोजन

      दीपावली की धूम-धड़ाका के बाद महापर्व छठ की तैयारी जोरों पर

      मंगोलियाई और रूसी प्रवासी पक्षियों की चहचहाहट से महरुम हुआ गिद्धि पोखर

      [embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=yvU97nonSFo[/embedyt]

      [embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=FmR7-3vAsw4[/embedyt]

      [embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=bUTQxJl5etE[/embedyt]

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!