अन्य
    Sunday, March 3, 2024
    अन्य

      बेन अंचलः तीन महीने बीत जाने के बाद भी राजस्व कर्मचारी-जमीन दलालों पर कारवाई नहीं!

      नालंदा दर्पण डेस्क। नालंदा जिले के बेन अंचल में राजस्व कर्मचारी व दलालों के गठजोड़ से दस्तावेज में उलटफेर का खेल चल रहा है। जिसकी पर्दाफाश 23 नवम्बर, 22 को कर जिलाधिकारी एवं अनुमंडल पदाधिकारी को ज्ञापन सौंप कर कारवाई की मांग की गई है।

      किन्तु तीन महीने बीत जाने के बाद भी अभी तक दस्तावेजों के साथ छेड़छाड़ करने वाले एवं कायम जमाबंदी को फाड़कर फेंक देने वाले दलाल और राजस्व कर्मचारी व मोटी रकम के आधार पर गलत तरीके से जमाबंदी कायम करने वाले दलाल पर कारवाई से दूर है।

      ज्ञापन सौंपने से लेकर अब तक कितने शिकायतें किए जानें के बाद भी अबतक कारवाई नहीं हो पाई है। जाहिर सी बात है कि अगर कारवाई नहीं हुई तो दलालों के हौसले और बढ़ेंगे और रैयत इसका शिकार होते रहेंगे।

      ज्ञापन सौंपने व वीडियो वायरल होने की चर्चा कुछ दिन खूब रही, लेकिन मामला धीरे धीरे ठंढे बस्ते में चला गया है। इतना हीं नहीं जिला स्तर से जांच हेतु अधिकारी भी आए और मामले की जांच भी हुई जिसमें दलालों के एक लैपटॉप भी बरामद हुए।

      लेकिन जांच रिपोर्ट अभी तक अधिकारियों के फाइल में हीं दबकर रह गई है। जिसके कारण दलाल पुनः सक्रिय होकर रैयतों को फांस उलटफेर करने एवं मोटी रकम की ऊगाही करने में जुट गए है।

      न जानें मोटी कमीशन खोरी की नशा है या फिर दलालों से कुछ और। जिसके कारण बेन अंचल में कायम दलालों पर नियमानुसार कारवाई नहीं हो पा रही है।

      ज्ञापन सौंपने वाले आवेदक ने जल्द से जल्द दलालों व दस्तावेजों के साथ छेड़छाड़ करने वाले कर्मचारियों के ऊपर सुसंगत धाराओं के तहत कानूनी कारवाई करने की मांग की है।

      रामघाट में किसान चौपाल का आयोजन, किसानों को मुफ़्त बिजली दे राज्य सरकार : अनिल सिंह

      युवक की पीट-पीट कर हत्या के विरोध में नूरसराय में सड़क जाम कर आगजनी और हंगामा

      माँ के ईलाज के लिए सूद पर पैसा लाने गांव गए युवक की थाना के पास पीट-पीटकर हत्या

      5 थानों की पुलिस टीम ने धान लदे 2 वाहन समेत 4 चोर को पकड़ा, 1 चोर की भागने के दौरान मौत

      प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय के पास मिले 1200 साल पुरानी मूर्तियां

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

      - Advertisment -
      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!