अन्य
    Sunday, June 23, 2024
    अन्य

      जिलाधिकारी की अध्यक्षता में धान अधिप्राप्ति को लेकर जिलास्तरीय टास्क फोर्स की बैठक

      बिहार शरीफ (नालंदा दर्पण)। नालंदा जिलाधिकारी शशांक शुभंकर की अध्यक्षता में आज धान अधिप्राप्ति जिला टास्क फोर्स की बैठक आहूत की गई। अब तक 212 पैक्सों एवं 12 व्यापार मंडल को धान अधिप्राप्ति की स्वीकृति प्राप्त है।जिला में अभी तक 5116 किसानों से कुल 37221.5 एमटी धान की अधिप्राप्ति की गई है।

      अधिप्राप्ति किये गए धान से उसना चावल तैयार करने हेतु जिला में 17 उसना चावल मिलों का निबंधन किया गया है। इनमें से तैयार निबंधित मिलों का भौतिक सत्यापन सुनिश्चित कराते हुये अब तक 203 पैक्सों को विभिन्न 12 चावल मिलों के साथ सम्बद्ध किया गया है।

      अन्य तैयार उसना चावल मिलों का भी भौतिक सत्यापन सुनिश्चित करते हुए उपयुक्त मिलों को जिला टॉस्क फोर्स से सीएमआर हेतु चयनित किया जाएगा तथा इन मिलों के साथ पैक्सों को सम्बद्ध किया जाएगा।

      सभी चयनित मिलों के लिए पैक्सों की संबद्धता/मिलों की क्षमता के अनुरूप सीएमआर के निर्धारित मासिक लक्ष्य के अनुरूप इसकी नियमित मॉनिटरिंग सुनिश्चित करने को कहा गया।

      विभिन्न पैक्सों से सम्बद्ध चावल मिलों के माध्यम से अब तक 4364 एमटी सीएमआर (चावल) राज्य खाद्य निगम के विभिन्न गोदामों में प्राप्त किया गया है।

      सभी सम्बद्ध चावल मिलों के धान/चावल के स्टॉक के भौतिक सत्यापन हेतु अलग-अलग जाँच दल गठित किया गया है। जाँच दल को तीन दिनों के अंदर सभी संबंधित चावल मिलों की  जाँच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा गया है।

      जाँच के क्रम में विशेष रुप से यह देखना है कि मिल द्वारा अधिप्राप्ति से प्राप्त धान से ही चावल तैयार कर राज्य खाद्य निगम को उपलब्ध कराया जा रहा है अथवा नहीं। अधिप्राप्ति हेतु धान देने वाले सभी किसानों का ससमय भुगतान सुनिश्चित करने का स्पष्ट रूप से निर्देश दिया गया।

      राज्य खाद्य निगम के सभी सीएमआर गोदाम में भंडारण क्षमता, सीसीटीवी, वजन मापने की मशीन आदि की व्यवस्था सुनिश्चित रखने का निर्देश जिला प्रबंधक राज्य खाद्य निगम को दिया गया।

      जिला प्रबंधक राज्य खाद्य निगम को सभी वजन मापने की मशीन का रैंडम निरीक्षण तथा माप तौल नियंत्रक के साथ सभी धर्म कांटा का 2 दिनों के अंदर संयुक्त जांच सुनिश्चित करने को कहा गया। प्राप्त चावल की गुणवत्ता परीक्षण प्रणाली को भी  व्यवस्थित रखने को कहा गया।

      बैठक में उप विकास आयुक्त वैभव श्रीवास्तव, जिला आपूर्ति पदाधिकारी शशि शंकर,जिला सहकारिता पदाधिकारी श्रीन्द्र नारायण, जिला प्रबंधक एसएफसी मों शफ़ीक़, जिला कृषि पदाधिकारी संजय कुमार, प्रबंध निदेशक सेंट्रल कोऑपरेटिव बैंक  सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!