अन्य
    Thursday, May 30, 2024
    अन्य

      बिहारशरीफ डिविजन की यह 10 ग्रामीण सड़कें होंगी चकाचक

      बिहारशरीफ (नालंदा दर्पण)। नालंदा जिले के ग्रामीण पथों की जर्जर हालत को देखते हुए ग्रामीण कार्य विभाग ने ग्रामीण पथ अनुरक्षण नीति के तहत जीर्णोद्धार करते हुए चकाचक बनाने की योजना पर काम करना शुरू कर दिया है। इसके तहत सड़क निर्माण कार्य पूरा होने के बाद अगले 5 वर्षों तक संवेदक को ही पथ का रखरखाव करना होगा।

      इस योजना में ग्रामीण कार्य विभाग के बिहारशरीफ डिविजन में बिहारशरीफ प्रखंड की 10 सड़कों का निर्माण किया जाना है। जिसकी कुल लंबाई 13.008 किलोमीटर है। इन पथों के निर्माण पर 414.152 लाख रुपए खर्च किए जाएंगे। जबकि पथ निर्माण पूरा हो जाने के बाद अगले 5 वर्षों तक सड़क के रखरखाव पर 169.006 लाख रुपया खर्च किया जाएगा।

      आसन्न लोकसभा चुनाव के बाद इन पथों का निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा। पथों के निर्माण के लिए निविदा की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। बिहारशरीफ प्रखंड में मनीराम अखाड़ा कल्याणपुर प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना सड़क से देववत्ती गांव तक कुल 0.40 किलोमीटर की लंबाई की सड़क बनायी जाएगी। जिस पर 11.78 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे।

      सड़क निर्माण कार्य पूरा हो जाने के बाद अगले 5 वर्षों तक संवेदक को ही करना है। जिस पर कुल 5.30 लाख रुपए खर्च किये जायेंगे। जबकि शेरपुर दुर्गापुर पीडव्लूडी रोड से मखदूआने गांव तक कल 250 मी लंबी सड़क के निर्माण पर 9.86 लाख रुपया खर्च किए जाएंगे। जबकि अगले 5 वर्षों तक रखरखाव के लिए 3.31 लाख रुपये रखा गया है।

      इसी प्रकार नेशनल हाइवे 82 में शेखपुर रोड से चकदुला गांव तक कुल 1.51 किलोमीटर लंबी सड़कों का निर्माण किया जाएगा, जिस पर 58.62 लाख खर्च होंगे। इस सड़क की लंबाई 1.51 किलोमीटर है। अगले 5 वर्षों तक सड़क का रखरखाव संवेदक करेंगे। जिस पर 16.49 लाख रुपया खर्च होंगे।

      इसके अलावा ग्रामीण कार्य विभाग नेशनल हाइवे 110 जमालीचक रोड से डुमरामा रोड से लालबीघा महादलित टोला तक कुल 950 मी की लंबाई के सड़क बनायी जाएगी जिस पर 31.07 लाख रुपया खर्च होंगे। संवेदक सड़क निर्माण के बाद अगले 5 वर्षों तक रखरखाव का कार्य करेंगे, जिस पर 12.23 लख रुपए खर्च किए जाएंगे।

      विभाग के अनुसार बिहारशरीफ प्रखंड में नेशनल हाइवे 83 दीपनगर शेखूपुर से चकदुल्ला मणिचक तक कुल 1.92 किलोमीटर जिस पर 72.71 लाख खर्च किए जाएंगे जबकि पथ निर्माण के बाद अगले 5 वर्षों तक सड़कों के रखरखाव पर 6.20 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे।

      इसी तरह नेशनल हाईवे 31 से चक रसाललपुर गांव तक कल 2.3 किलोमीटर की सड़कों का निर्माण किया जाएगा, जिस पर 65.33 लाख रुपया खर्च किए जाएंगे। जबकि साथ निर्माण के बाद उसके रखरखाव पर 33.33 लाख रुपये खर्च होंगे।

      इसी प्रकार पलटपुरा बेलछी पेडूका रोड से भोजपुर गांव तक कुल 1.2 किलोमीटर की लंबाई की सड़क बनाई जाएगी। जिस पर 26.97 लाख रुपया खर्च किए जाएंगे, जबकि रखरखाव पर 13.96 लाख रुपया खर्च किए जाएंगे।

      वही नेशनल हाईवे 82 तियुरी रोड से प्राइमरी स्कूल अलोदियासराय तक कुल 1।86 किलोमीटर लंबाई की सड़क बनाई जाएगी जिस पर 62.74 लख रुपए खर्च होंगे। सड़क के रखरखाव पर 23.40 लाख रुपया खर्च होंगे।

      वहीं महल पर तेतरामा रोड से नौबतपुर लोटन गांव तक 1.69 किलोमीटर की सड़कों का निर्माण किया जाएगा, जिस पर 47 लख रुपए खर्च होंगे। जबकि रखरखाव पर 25.11 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे। इसके अलावा एल 029 ए से पलानी गांव तक कुल एक किलोमीटर की सड़कों का निर्माण किया जाएगा, जिस पर 28 लाख रुपया खर्च किए जाएंगे। जबकि संवेदक को सड़क निर्माण के बाद अगले पांच वर्षों तक सड़क का रखरखाव करना होगा, जिस पर 14.47 लाख रुपया खर्च होंगे।

      ग्रामीण कार्य विभाग के कार्यपालक अभियंता ने बताया कि सड़क निर्माण कार्य की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। जिसमें निविदा तो हो चुका है, लेकिन संवेदक को वर्क आर्डर नहीं मिला है। लोकसभा चुनाव की समाप्ति के बाद संवेदक को वर्क आर्डर दिया जाएगा। तब सड़क निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा। चालू वित्तीय वर्ष की समाप्ति के पूर्व ही सड़क निर्माण का कार्य पूरा कर लिया जाएगा।

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!