अन्य
    Thursday, May 30, 2024
    अन्य

      स्वर्ण दुकान में लूटपाट का खुलासा, हथियार समेत तीन धराए

      बिहारशरीफ (नालंदा दर्पण)। लहेरी थाना क्षेत्र अंतर्गत 22 दिन पूर्व एक स्वर्ण कारीगर के दुकान में अपराधी पिस्तौल का भय दिखाते हुए मारपीट कर लूटपाट की घटना को अंजाम दिया था। अपराधी जाते-जाते कई राउंड फायरिंग भी की थी। पुलिस ने इस मामले का खुलासा करते हुए तीन अपराधी को हथियार के साथ गिरफ्तार किया है।

      बिहारशरीफ सदर डीएसपी नुरुल हक ने मीडिया में बताया कि विगत 18 मार्च को करीब 5:30 बजे शाम में चार अपराधियों ने लहेरी थाना क्षेत्र में मोहम्मद सरफराज उर्फ राजू स्वर्ण कारीगर की दुकान में घुसकर सभी को बंधक बना लिया था। अपराधी बंधक बनाकर पिस्तौल का भय दिखाते हुए मारपीट कर लूटपाट की घटना को अंजाम दिया था। इतना ही नहीं दुकान के गल्ले में रखे 5000 भी लूट ली थी और अपराधी जाते-जाते फायरिंग भी किया था।

      उन्होंने बताया कि घटना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और आवश्यक कार्रवाई करते हुए प्राथमिकी दर्ज कर अनुसंधान शुरू किया था। सदर डीएसपी ने बताया कि अनुसंधान के क्रम में वैज्ञानिक एवं तकनीकी रूप से सबूत को संकलन करते हुए घटना में शामिल अपराधियों की पहचान की गई और इसी पहचान के आधार पर तीन को गिरफ्तार किया गया गिरफ्तार अपराधियों में कुंदन कुमार उर्फ छोटू काफी कुख्यात अपराधी है, जो डकैती, हत्या, लूट, बलात्कार समेत कई अन्य गंभीर कांडों में पटना और नालंदा के जेलों में हवा खा चुका है। जबकि दूसरा अपराधी कीरथ कुमार उर्फ अमित कुमार डकैती की घटना में पहले भी जेल जा चुका है।

      उन्होंने बताया कि इस घटना में शामिल अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। अपराधियों के पास से पुलिस ने दो देसी कट्टा, दो जिंदा कारतूस और मोबाइल भी बरामद की है।

      सदर डीएसपी ने बताया कि अप्राथमिक अभियुक्त कुंदन कुमार उर्फ छोटू जो कि वर्तमान में मंगला स्थान में रहता है। इसका अपराधिक इतिहास काफी लंबा है। पटने के ही मेहंदी गंज थाना में चार, अगमकुआं थाने में तीन मामला दर्ज है।

      कौन कौन अपराधी धराए: गिरफ्तार किए गए अपराधियों में पटना के बहादुरपुर हाउसिंग कॉलोनी निवासी स्वर्गीय जयनाथ तिवारी का पुत्र कीरथ कुमार उर्फ अमित कुमार जो वर्तमान में गढ़पर मोहल्ले में रहता है। वही बहादुरपुर हाउसिंग कॉलोनी पटना के निवासी स्वर्गीय जगदीश साह का पुत्र महेश साह है, जो वर्तमान में इसी पटना के पते पर रहता है, लेकिन इसका पैतृक घर पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग जिले के बागडोगरा गांव है। जबकि तीसरा अपराधी पटना जिले के ही मेहंदीगंज थाना क्षेत्र के मंसाराम अखाड़ा निवासी मुन्नी यादव का पुत्र कुंदन कुमार उर्फ छोटू है।

      इस कांड के उद्वेदन में शामिल लहेरी थानाध्यक्ष रंजीत कुमार रजक, ट्रेनिंग पुलिस उपाधीक्षक मोहम्मद अजहरूद्दीन, पुलिस अवर निरीक्षक मोहम्मद मुस्तफा, ट्रेनी पुलिस अवर निरीक्षक तौकीर खान, संतोष कुमार सिंह, सर्वेश कुमार और लहेरी थाने की पुलिसकर्मी है।

      ठेला चालक ने ही सुपारी देकर करायी चंडी निवासी वेंडर साथी की हत्या

      बिहारशरीफ मंडल कारा में कैदी की मौत की होगी न्यायिक जांच

      एकता फाउंडेशन की घटिया मध्यान भोजन खाने से इन्कार, स्कूली बच्चों का हंगामा

      थरथरी में देसी कट्टा लिए युवक की तस्वीर फिर वायरल, गिरफ्तार

      पांच साल बाद नौकायन से फिर गुलजार हुआ सुभाष पार्क

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!