अन्य
    Thursday, July 18, 2024
    अन्य

      कनीय अभियंता और रोजगार सेवक की मिलीभगत से मनरेगा में लूट

      बेन (नालंदा दर्पण)। बेन प्रखंड में मनरेगा की क्रियान्वित योजनाओं में लूट की होड़ मची हुई है। इसमें जेई से लेकर पंचायत रोजगार सेवक तक की मिलीभगत से इंकार नहीं किया जा सकता। मनरेगा पीओ की अनदेखी से मनरेगा कर्मी इसका भरपूर लाभ उठा रहे हैं।

      यही वजह है कि क्रियान्वित योजनाओं में योजना स्थल पर बोर्ड नहीं लगाया जा रहा है। बोर्ड नहीं लगाने पर प्राक्कलन में आसानी से चोरी की जा सकती है। जबकि सरकार का स्पष्ट आदेश है कि किसी भी योजना के कार्यस्थल पर सूचना बोर्ड जरूर लगाएं। बोर्ड में योजना का नाम, योजना की प्राक्कलित राशि, संवेदक का नाम आदि का जिक्र होता है।

      सामाजिक कार्यकर्ता अरविन्द प्रसाद उर्फ भोली बाबू द्वारा बताया गया कि बेन प्रखंड के सभी पंचायतों में मनरेगा के तहत योजनाएं क्रियान्वित हो रही है। जिसमें कार्यस्थल पर योजना का बोर्ड नहीं लगाए जानें से सरकारी राशि की लूट की जा रही है।

      उन्होंने प्रखंड के ग्राम पंचायत राज बारा के महेशपुर गांव के सुंदर खंधा में हो रही पईन खुदाई में खानापूर्ति कर सरकारी राशि की लूटपाट किए जानें का आरोप लगाया है और इसकी चर्चा पंचायतों में खूब हो रही है।

      सामाजिक कार्यकर्ता ने शिकायत में यह भी लिखा है कि जेई, रोजगार सेवक एवं विचौलियों की मिलीभगत से प्राक्कलन की अनदेखी कर खानापूर्ति कर पईन की खुदाई में सिर्फ़ और सिर्फ ऊपरी भाग छिल दिया जा रहा है और राशि की बंदरबाट कर ली जा रही है। जबकि पुरुष को 65 एवं महिला को 57 घनफीट मिट्टी काटकर अलंंग पर रखना है।

      [embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=_0LXaUKeSmk[/embedyt]

      डीडीसी की उपस्थिति में 34 में 31 जिला परिषद सदस्यों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई

      पत्नी ने अवैध संबंध का विरोध करने पर पति को मार डाला

      बिहारशरीफ सदर अस्पताल में डीडीसी की जांच में हुआ बड़ा जघन्य खुलासा

      कभी खेतों के सीने को चीरती छुक-छुक गुजरती थी फतुहा-इस्लामपुर छोटी लाइन पर मार्टिन की रेल

      नालंदा डीएम ने 23 जनवरी तक के लिए बढ़ाई स्कूलों में छुट्टी

      संबंधित खबर

      error: Content is protected !!