अन्य
    Sunday, May 26, 2024
    अन्य

      वन मैन बाउंड्री फोर्स थे महात्मा गांधी : भाकपा माले

      चंडी (नालंदा दर्पण)। भाकपा माले ने संविधान बचाओ लोकतंत्र बचाओ जनसंकल्प अभियान के तहत चंडी बापू हाई स्कूल के मैदान में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के शहादत दिवस पर उन्हें याद किया,उनके चित्र पर माल्यार्पण कर उनके शहीदी दिवस पर श्रद्धा सुमन अर्पित की।

      Mahatma Gandhi was a one man boundary force CPIML 2चंडी नगरनौसा प्रभारी कॉमरेड रामदास अकेला ने महात्मा गांधी की शहादत पर कहा कि देश और दुनिया में शांति के प्रतीक अहिंसा के पुजारी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को नाथूराम गोडसे ने 30 जनवरी 1948 को गोली मारकर हत्या कर दिया था। वहीं ताकतें आज देश के सत्ता पर काबिज है और देश दंगा के हवाले कर रहे हैं,यह सरकार जनविरोधी सरकार है इस सरकार को देश से खदेड़ना हीं राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

      कार्यक्रम में शामिल हरनौत प्रभारी कॉमरेड वीरेश कुमार ने कहा कि आज पुनः सत्ता पर काबिज संघ भाजपा ब्रिगेड ने देश को सांप्रदायिक  उन्मादी दौर में धकेल दिया है, वे प्रतिदिन गांधी जी के विचारों की हत्या कर रहे हैं।

      उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी वन मैन बाउंड्री फोर्स थे। भाजपा संघ ब्रिगेड पुरुषोत्तम राम नहीं गांधी के हत्यारे के पुजारी और अनुयायी हैं। आस्था का इस्तेमाल राजनीति में करके देश की गंगा जमुनी संस्कृति को मिटा देने पर आमदा है

      भाकपा माले द्वारा संविधान बचाओ लोकतंत्र बचाओ पदयात्रा के तहत गांव गांव जाकर लोगों से अपील करते हुए कहा है कि 2024 के लोकसभा चुनाव में फासीवादी ताकतों को देश से खदेड़ना हीं राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

      सभा को संबोधित करते हुए चंडी नगरनौसा लीडिंग टीम के कॉमरेड जैनेंद्र प्रसाद ने कहा देश की आजादी में संघ ब्रिगेड की कोई भूमिका नहीं थी लेकिन आज वे देशभक्ति का सर्टिफिकेट बांट रहे हैं।

      कार्यक्रम में शामिल लीडिंग टीम के कॉमरेड सूरजमंडल, लाखो देवी, फूलमंती देवी,अनिल रविदास, पप्पू तूफान,गोपाल पाठक, मुकेश रविदास, रामजतन रविदास,लालमुन्नी मांझी, अनूप जी,लखन रविदास, शैलेन्द्र प्रसाद, डोमन मांझी, झपसी मांझी, बबलू रविदास,चांदो देवी, रेखा देवी, सुधा देवी, बिन्नी देवी, पाडिया देवी, सुनीता देवी, अशोक कुमार, रामासिश मंडल,जदू मांझी, कृष्ण मांझी, अनुज मांझी व दर्जनों लोग उपस्थित हुए एवं राष्ट्र पिता के प्रति अपनी श्रद्धासुमन अर्पित की।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!