अन्य
    Sunday, June 23, 2024
    अन्य

      पंच-सरपंच संघ की नगरनौसा प्रखंड इकाई ने 11 सूत्री मांगों को लेकर किया धरना-प्रदर्शन

      “मीडिया में भी कई बार सूचना दी गई कि मुखिया के कार्यों का देखभाल सरपंच करेंगे, लेकिन उसको भी केवल कागज में ही रखा गया है। पंचायत में प्रतिदिन सरपंच व पंच को किसी न किसी मामले का पंचयती करना पड़ता है, लेकिन सुरक्षा के नाम पर सरपंच को एक चौकीदार भी नहीं दिया गया है…

      नगरनौसा (नालंदा दर्पण)। आज मंगलवार के दिन 11 सूत्री मांगों को लेकर पंच-सरपंच संघ नगरनौसा प्रखंड इकाई द्वारा प्रखंड कार्यालय पर एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन किया गया।

      पंच-सरपंच संघ के प्रखंड अध्यक्ष सह काछियावां पंचायत के सरपंच खुशबू कुमारी ने बताया कि 11 सूत्री मांगों को लेकर पंच-सरपंच संघ इकाई नगरनौसा द्वारा आज प्रखंड कार्यालय पर धरना-प्रदर्शन किया गया है।

      उन्होंने कहा कि आज पंच-सरपंच अपने आप को उपेक्षित महसूस कर रहे हैं। पंच सरपंच की स्थिति काफी दयनीय है। सरकार के कागजों में तो पंच सरपंच के काफी अधिकार दिए गए हैं। लेकिन जमीन पर उसे लागू नहीं करने दिया जा रहा है।

      उन्होंने कहा कि पंच-सरपंच संघ की मांग में सरपंच को मजिस्ट्रेट का अधिकार प्रदान करते हुए सभी सरपंच को पुलिस, चौकीदार व प्रहरी की न्युक्ति की जाय, सरपंच को वेतन भत्ता, स्वास्थ्य, सुरक्षा व बीमा समेत वर्ष 2006 से सरपंच, पंच को पेंशन दिया जाय, एमएलसी चुनाव के दौरान सरपंच व पंच को मतदाता बनाते हुए मतदान करने का अधिकार दिया जाय, ग्राम कचहरी वर्ष 2007 के धारा 90 से लेकर 122 का अनुपालन में पुलिस प्रशासन का हस्तक्षेप बंद कराया जाय, ग्राम कचहरी के फैसले में न्यायलय का सहयोग कराया जाय, सरपंच को पंचायत के विकास कार्य की समीक्षा व योजना की जांच करने का आदेश दिया जाय, सभी जनप्रतिनिधि की सुरक्षा व्यवस्था मुहैया कराया जाय आदि ग्यारह सूत्री मांग शामिल हैं।

      खजुरा पंचायत के सरपंच सरविंद कुमार ने कहा कि कहा कि ग्राम कचहरी के प्रतिनिधियो को सुविधा देने के बजाय सरकार द्वारा उनके अधिकारों में कटौती किया जा रहा है।

      कैला पंचायत के सरपंच मंटू कुमार ने कहा कि मीडिया में भी कई बार सूचना दी गई की मुखिया के कार्यों का देखभाल सरपंच करेंगे, लेकिन उसको भी केवल कागज में ही रखा गया है।

      नगरनौसा पंचायत के सरपंच रामदयाल चौधरी ने कहा कि सरकार ग्राम कचहरी के सरपंच व पंच के अधिकारों को हनन करने में लगी है,जबकि पंचायत में प्रतिदिन सरपंच व पंच को किसी न किसी मामले का पंचयती करना पड़ता है, लेकिन सुरक्षा के नाम पर सरपंच को एक चौकीदार भी नहीं दिया गया है।

      इस मौके पर सरपंच ममता देवी, सोनू कुमार, रामपुर पंचायत के उपसरपंच अनुपमा देवी, भुतहाखार पंचायत के उप सरपंच रवि कुमार, जितेंद्र चौधरी, सतीश कुमार, नीतू देवी, अनिता देवी समेत प्रखंड के सभी पंच व सरपंच उपस्थित थे।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!