अन्य
    Tuesday, May 28, 2024
    अन्य

      नालंदा में इन 10 सरकारी स्कूलों की हुई अकाल मौत, जानें वजह

      बिहारशरीफ (नालंदा दर्पण)। बिहार शिक्षा विभाग के प्राथमिक शिक्षा निदेशक के निर्देश पर जिले के 10 भूमिहीन-भवनहीन विद्यालयों को पास के विद्यालयों में एकीकरण कर दिया गया है। इससे इन विद्यालयों का अस्तित्व अब हमेशा के लिए समाप्त हो जायेगा। एकीकरण होने वाले विद्यालयों की पहचान अब मूल विद्यालय से ही होगा।

      इन विद्यालयों में पढ़ाने वाले शिक्षकों के साथ-साथ पढ़ने वाले बच्चे तक नए विद्यालय में चले जायेंगे। जिले के शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों के इन विद्यालयों के पास ना तो पर्याप्त भूमि मौजूद थे और ना भवन ही बनाये गये थे।

      कहा जाता है कि काफी कम संसाधनों के द्वारा इन विद्यालयों का संचालन शिक्षा विभाग द्वारा वर्षों से किया जा रहा था। एकीकरण होने वाले विद्यालयों में प्रारंभिक तथा मध्य विद्यालय शामिल है।

      नालंदा जिला कार्यक्रम पदाधिकारी सुजीत कुमार राउत ने बताया कि वैसे भूमिहीन एवं भवनहीन प्राथमिक एवं मध्य विद्यालय, जो किसी अन्य भवनयुक्त प्राथमिक एवं मध्य विद्यालय के साथ सम्बद्ध होकर संचालित हो रहे थे, वैसे विद्यालयों में से जिले के 10 भूमिहीन एवं भवनहीन विद्यालयों का संविलयन शिक्षक इकाई सहित भवनयुक्त प्राथमिक अथवा मध्य विद्यालय में किया गया है।

      विद्यालय के एकीकरण के पश्चात विद्यालय मूल विद्यालय के नाम से जाना जायेगा। एकीकरण होने वाले विद्यालयों की शिक्षा समिति भंग कर दी जायेगी। मूल विद्यालय के प्रधानाध्यापक ही इसके प्रधानाध्यापक रहेंगे। एकीकरण होने वाले विद्यालय की सभी राशियां तथा परिसम्पत्तियां मूल विद्यालय की हो जायेगी।

      एकीकरण होने वाले विद्यालयों में बिहार शरीफ प्रखंड के पांच विद्यालय सरमेरा प्रखंड के दो विद्यालय बिंद, एकंगरसराय तथा चंडी प्रखंडों के एक-एक विद्यालय के नाम शामिल हैं।

      इन विद्यालयों का किया गया एकीकरणः उर्दू प्राइमरी स्कूल मोगल कुआं को उर्दू प्राइमरी स्कूल बसार विगहा में, उर्दू कन्या प्राइमरी स्कूल शेरपुर को उर्दू प्राइमरी स्कूल थवई मोहल्ला में, उर्दु कन्या प्राइमरी स्कूल कोहनासराय को उर्दू प्राइमरी स्कूल गगन दीवान में, प्राइमरी स्कूल नीमगंज को कन्या मिडिल स्कूल महल पर में, नवसृजित प्राइमरी स्कूल देवकली विगहा- बेलदारी पर को प्राइमरी स्कूल केवल विगहा में, नवसृजित प्राइमरी स्कूल मठ पर को मिडिल स्कूल उतरथू में, प्राइमरी स्कूल रूचनपुरा को प्राइमरी स्कूल मानपुर में, नवसृजित प्राइमरी स्कूल मलवा विगहा को मिडिल स्कूल मलावा में, नवसृजित प्राइमरी स्कूल फतेहपुर डुमरा को प्राइमरी स्कूल शेखड़ा में तथा नवसृजित प्राइमरी स्कूल गोपालपुर को प्राइमरी स्कूल कन्हैयागंज में एकीकरण किया गया है।

      नालंदा के इन 420 फर्जी नियोजित शिक्षकों की काउंसलिंग पटना में शुरु

      गर्मी की छुट्टी को लेकर शिक्षा विभाग का नया आदेश, जानें कैसे खुलेंगे स्कूल

      शादीशुदा महिला के प्रेम चक्कर में पड़े युवक को मिली भयानक मौत

      किताबों में भारी कमीशन के बीच चंडी के निजी स्कूल बनते जा रहे हैं ‘बुक डीलर’

      ACS केके पाठक का शुक्रगुजार हुआ यह अनुसूचित जाति आवासीय बालिका विद्यालय

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!