अन्य
    Sunday, June 23, 2024
    अन्य

      अविश्वास प्रस्ताव की लहर चंडी पहुंची, प्रमुख-उपप्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश

      चंडी (नालंदा दर्पण)। त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव के लगभग ढ़ाई साल पूरा होने के बाद जिले के विभिन्न प्रखंडों में प्रमुख और उपप्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की होड़ असंतुष्टों के बीच शुरू हो गई है। कई प्रखंडों में अविश्वास प्रस्ताव आ भी चुका है। जिसकी लहर बुधवार को चंडी पहुंच गई।

      Wave of no confidence motion reaches Chandi no confidence motion presented against Chief Deputy Chiefपंचायत समिति के लगभग दस असंतुष्ट सदस्यों ने चंडी प्रखंड कार्यालय पहुंच कर प्रमुख और उपप्रमुख के प्रति अअविश्वास जताते हुए उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस बीडीओ को दिया है।

      चंडी प्रखंड के 10 पंचायत समिति सदस्यों ने प्रमुख निशा कुमारी एवं उपप्रमुख किरण देवी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया है। बीडीओ सह कार्यपालक पदाधिकारी सौरव सिन्हा को बुधवार को इससे संबंधित आवेदन दिया है।

      प्रमुख और उपप्रमुख के खिलाफ पिंकू देवी, रेशमी कुमारी, बुनी देवी, गौतम कुमार, अनिल कुमार, दयाशंकर यादव, कमलेश कुमार, मनीष कुमार, भोलू कुमार, राजनंदन प्रसाद ने हस्ताक्षर कर प्रस्ताव लाया है।

      पंचायत समिति सदस्यों ने प्रमुख पर पिछले दो साल में मात्र दो बार बैठक बुलाने का आरोप लगाया है। पंचायत समिति के सदस्यों को प्रमुख द्वारा मान सम्मान नहीं दिया जाता है। पंचायत समिति की बैठक में सर्वसम्मति से लिए गए निर्णय को भी नजरअंदाज किया जाता है, जिस कारण बहुमत से लिए गए निर्णय का कोई औचित्य नहीं रह जाता है। प्रमुख अपने शक्तियों का खुला दुरुपयोग करते हैं।

      कई पंचायत समिति क्षेत्र की 15वीं एवं षष्टम वित्त आयोग की राशि से क्रियान्वित होने वाले विकास की योजनाओं से वंचित रखा जाता है। सदस्यों के सलाह एवं सुझाव पर प्रमुख द्वारा विशेष ध्यान नहीं दिया जाता है। प्रमुख द्वारा सदस्यों के भावनाओं को नजर अंदाज करते हुए हम लोगों के साथ विश्वासघात किया जा रहा है।

      उपप्रमुख के खिलाफ सदस्यों ने यही आरोप लगाया है। कहा गया है कि उपप्रमुख द्वारा शक्तियों का खुला दुरुपयोग किया जा रहा है। पंचायत समिति की बैठक एवं कार्यों में उपप्रमुख द्वारा कोई रुचि नहीं लिया जाता है। उपप्रमुख द्वारा स्थाई समिति की बैठक नहीं कराया जाता है।

      प्रखंड विकास पदाधिकारी सह कार्यपालक पदाधिकारी सौरव सिन्हा ने बताया कि प्रमुख और उपप्रमुख के खिलाफ पंचायत समिति सदस्यों ने अविश्वास प्रस्ताव लाया है।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!