अन्य
    Friday, April 12, 2024
    अन्य

      राजगीर स्टेशन से श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या तक रेलवे कनेक्टिविटी की मांग

      राजगीर (नालंदा दर्पण)। महात्मा बुद्ध और तीर्थंकर महावीर स्वामी की कर्मभूमि राजगीर को श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या से रेलवे कनेक्टिविटी की मांग होने लगी है। राजगीर से वाराणसी तक चलने वाली बुद्ध पूर्णिमा एक्सप्रेस को अयोध्या तक चलने की मांग शहर वासियों द्वारा की गयी है।

      पर्यटकों का मानना है कि अयोध्या तक इस रेलगाड़ी के परिचालन से पर्यटन और तीर्थाटन करने वाले लोगों को काफी सहूलियत होगी। इससे रेलवे को भी अच्छी खासी राजस्व की प्राप्ति होगी।

      पर्यटक शहर राजगीर और भगवान श्रीराम की जन्मस्थली अयोध्या दोनों को अद्भुत और अलौकिक रूप से सजाया और संवारा गया है। पर्यटक और सनातन धर्मावलंबियों में इस बात को लेकर काफी ज्यादा उत्सुकता है कि दोनों धार्मिक स्थलों की रेलवे कनेक्टिविटी होने से श्रद्धालुओं के आवागमन में सहूलियत होगी।राजगीर से रात्रि में चलकर सुबह अयोध्या पहुंचेंगे और शाम में अयोध्या से चलकर सुबह राजगीर पहुंचेंगे।

      पर्यटकों का कहना है कि मगध की ऐतिहासिक राजधानी राजगीर से अयोध्या के लिए कोई रेलगाड़ी नहीं है। यहां के लोगों को अयोध्या जाने के लिए पटना से रेल पकड़नी पड़ती है। बुद्ध पूर्णिमा को अयोध्या तक विस्तार करने से राजगीर और नालंदा के अला नवादा, शेखपुरा, गया और जहानाबाद के पूर्वी भाग की आबादी के अलावा कोडरमा और गिरिडीह के लोगों को भी अयोध्या जाना आसान हो जाएगा।

      पर्यटक मगध की राजधानी राजगीर के अलावे आसपास के जिलों के लोग अयोध्या में भगवान श्रीराम के दर्शन के लिए ललाइत हैं। इसलिए राजगीर से सीधी कनेक्टिविटी के लिए बुद्ध पूर्णिमा एक्सप्रेस को बनारस से अयोध्या तक चलाने की पहल रेलवे मंत्रालय द्वारा की जानी चाहिए।

      मजदूर की पीट-पीटकर हत्या मामले में दोषी चंडी के 3 लोगों को उम्रकैद

      बिहारशरीफ में ‘स्मार्ट लापरवाही’ से स्कूल की दीवार गिरी, कई जख्मी, दो गंभीर

      पैसों की लेनदेन के विवाद में बी फार्मा के छात्र को गोली मारी

      चिकसौरा थाना पुलिस ने किया मिनी गन फैक्ट्री का खुलासा, 3 धंधेबाज गिरफ्तार

      अचानक खलिहान में लगी आग में 12 बीघा खेत की फसल राख

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!