अन्य
    Friday, April 12, 2024
    अन्य

      बिजली विभाग के संवेदको ने स्ट्रेलिंग एंड विल्सन कंपनी में ताला जड़ा

      बिहारशरीफ (नालंदा दर्पण)। आज बिजली विभाग के आक्रोशित संवेदको ने सोहसराय थाना क्षेत्र अंतर्गत स्ट्रेलिंग एंड विल्सन कंपनी में तालाबंदी किया। संवेदको को पिछले आठ महीने का करोड़ो रुपए का भुगतान नही हुआ है। इसी से सारे संवेदक काफी गुस्से में हैं।

      Electricity Departments inspectors locked out Streling and Wilson Company 2दरअसल, नालंदा जिले में बिजली विभाग के धरातल पर किए जाने वाले कार्य को सुदृढ़ रखने वाले संवेदको की हालत कुछ ठीक नहीं है। यहां बिजली विभाग के अधीन स्ट्रेलिंग एंड विल्सन कंपनी निजी संवेदकों से बिजली विभाग से जुड़े कार्यों को कराने का काम कराती है।

      नालंदा जिले में फिलहाल इस कंपनी के अधीन 20 संवेदक हर पंचायत हर गांव में बिजली विभागों के कार्यों को धरातल पर उतरने का काम करती है, लेकिन पिछले 8 महीना से कागजी कागजातों में कमी के कारण इन सभी बिजली विभाग के संवेदको को टहलाया जा रहा है।

      संवेदको का आरोप है कि हम लोगों से पूरा काम करवा कर बकाया राशि देने में कंपनी टालमटोल कर रही है। इसी को लेकर कंपनी में तालाबंदी किया गया है। नियमानुसार कार्य पूरा होने के बाद संवेदको को 45 दिन के अंदर बकाया राशि की भुगतान करनी होती है। लेकिन बिजली विभाग इस कंपनी के द्वारा पीएफ ईएसआई का हवाला देकर पिछले आठ महीना से संवेदको टहलाया जा रहा है।

      वहीं इस संबंध में कंपनी क् प्रोजेक्ट मैनेजर का कहना है कि पीएफ और ईएसआई की कमियों के कारण सभी समवेदको का बकाया राशि लंबित है। जिसका समाधान करते हुए सभी संवेदको को एक सप्ताह के अंदर भुगतान कर दिया जाएगा।

      [embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=wncTQJGNzZ4[/embedyt]

      जमीन कारोबारी हत्याकांड का खुलासा, सगा चाचा गिरफ्तार

      जंगली जानवरों ने हमला कर 40 बकरियों को मौत के घाट उतारा, ग्रामीणों में दहशत

      युवक ने नग्न अवस्था में मोबाइल से ऑनलाइन वीडियो दिखाते हुए लगा ली फांसी

      सरस्वती पूजा-शबे बारात को लेकर डीएम की अध्यक्षता में शांति समिति की बैठक

      बिहारशरीफ सदर अस्पताल में नवजात की मौत मामले में सिविल सर्जन को लगी कड़ी फटकार

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!