अन्य
    Saturday, July 20, 2024
    अन्य

      बिहारशरीफ अस्पताल चौक पर नालंदा सिविल सर्जन और अपर मुख्य सचिव का पुतला फूंका

      बिहारशरीफ (नालंदा दर्पण)। नालंदा जिला स्वास्थ्य विभाग में व्यापक रूप अनिमितता एवं मृतक कर्मचारी के आश्रितों को प्रताड़ित किए जाने के विरोध में आज बिहारशरीफ अस्पताल चौक पर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के बैनर तले सिविल सर्जन एवं अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य विभाग का पुतला दहन पुतला दहन किया गया।

      पुतला दहन के बाद राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी नालंदा के जिलाध्यक्ष राजकुमार पासवान ने कहा कि उनके द्वारा कई बार स्वास्थ्य विभाग में हो रहे गड़बड़ी की शिकायत जिलाधिकारी एवं विभाग में लिखित रूप से दिया गया था। परन्तु सिविल सर्जन द्वारा उन आरोपों की जाँच नहीं करा कर उसे ठंढे बस्ते में डालकर आरोपियों को बचाने में लगे हैं।

      उन्होंने कहा कि वर्ष 1996 में सेवा काल में ही सफाईकर्मी छठीया देवी के मृत्यु के बाद उनकी आश्रित को सिविल सर्जन कार्यालय के लिपिक एवं पदाधिकारी के मनमानी के कारण प्रताड़ित किया जा रहा है और उसका परिवार भूखे मरने को विवश है।

      उन्होंने कहा कि सिविज सर्जन कार्यालय में कुण्डली मारकर 20-25 वर्षों से कर्मी पदस्थापित हैं, जो सरकार के नियम के विरूद्ध हैं। कागज पर ही स्थानांतरण एवं प्रतिनियोजन का खेला खेलकर लूट-खसोट की छूट कर्मियों को दे रखा गया है। जिसकी जाँच उनके कर्म पुस्तिका से की जाय तो बड़े चौंकाने वाले तत्थ सामने आएगें।

      उन्होंने कहा कि जिले में चर्चित एचआईवी० कांड के आरोपित डॉ. कुमकुम प्रसाद को बचाते हुये कनीय चिकित्सक होने के बावजूद अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी का प्रभार देकर मनमानी कर रहे हैं।

      उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग में कार्य कर रहे आउटसोर्सिंग कम्पनी के कई लोग के उपर कई गंभीर आरोप लगे है और कोई शराब के साथ गिरफ्तार हुआ तो कोई अवैध बसुली करते गिरफ्तार हुआ। फिर भी स्वास्थ्य विभाग के लोग कम्पनी के लोगों पर कोई कार्रवाई नहीं किया जाना सिविल सर्जन की मिलीभगत दर्शाता है। कम्पनी के भुगतान पर एवं सदर अस्पताल में लगे सीसीटीवी फुटेज की जाँच कराए जाने पर बड़े घोटाले सामने आएगें।

      उन्होंने कहा कि सदर अस्पताल में प्रसव कराने आने वाले महिला से अवैध वसूली के आरोप मीडिया में हमेशा सुर्खियों में रहता है। लेबर वार्ड में विगत कई वर्षों से कार्य कर रहे कर्मियों को ड्यूटी रोस्टर के अनुसार नहीं कराया जाता है। जिसमें श्रीमति रेणु कुमारी जीएनएम द्वारा मनमानी कर अवैध वसूली करने के लिये खुली छुट दे रखी है। साथ ही मनमानी करके अपने आप को मेट्रॉन बनकर विभाग को गुमराह कर रही है और सुबह से शाम तक लेवर रुम में जमी रहती है। वहीं श्रीमति रेणु कुमारी सरकारी आवास में रहकर आवास भत्ता लेकर वित्तिय अनियमितता भी की है।

      श्री पासवान ने आगे कहा कि सिविल सर्जन नालन्दा द्वारा कई गंभीर आरोप के आरोपी डॉ. रामेन्द्र कुमार को गिरियक का प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी बनाकर वित्तिय अनियमितता करने की खुली छूट दे रखी है तथा यहाँ चिकित्सकों को प्रतिनियोजन करने एवं प्रतिनियोजन मुक्त करने का खेल पैसे के लिये किया जाता है। अभी हाल ही में एसएनसीयू वार्ड से एक चिकित्सक का प्रतिनियोजन मुक्त कर एकंगरसराय स्वास्थ्य केन्द्र वापस किया गया। मगर एक दिन के अंदर ही उसी चिकित्सक का प्रतिनियोजन मुक्त करते हुये एसएनसीयू वार्ड में वापस लाया है।

      उन्होंने कहा कि सिविल सर्जन के कार्यालय में तैनात कुमारी शांति सिंह एएनएम अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पावापुरी के आश्रित अमरेश कुमार, लिपिक एवं प्रमोद कुमार सिंह, लिपिक की नियुक्ति की एवं इन दोनों की सम्पत्ति की जाँच आर्थिक अपराध ईकाई से करायी जाय। इसससे बड़े खुलासे होगें।

      उन्होंने वर्तमान सिविल सर्जन एवं डीपीएम जिला स्वास्थ्य समिति के कार्यकाल में नियुक्ति दवा खरीदगी एवं कम्पनी भुगतान की जाँच न्यायिक जाँच की माँग भी की।

      इस मौके पर रामदेव पासवान, मो. आजाद, मिथलेश पासवान, सत्येन्द्र पासवान, छोटु पासवान, विकास कुमार, पप्पु कुमार, बाल्मिकी पासवान, सरिता कुमारी, संजय पासवान, कौशल कुमार, धनंजय कुमार, मोहन पासवान, समीर कुमार आदि कार्यकर्त्ता मौजूद थे।

      [embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=GHZG5r7TrKQ[/embedyt]

      [embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=3age0tAczPw[/embedyt]

      एकंगरसराय के इस्लामपुर रोड में युवती ने की आत्महत्या, जांच में जुटी पुलिस

      गाँव के ही युवती से अवैध संबंध के कारण हुई थी यूट्यूबर हराधन की निर्मम हत्या

       पटेल सेना ने लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती मनाई

      दहेज की खातिर नव विवाहिता की गला दबाकर हत्या का आरोप

      हिलसा के जदयू विधायक के साथ गाली गलौज कर बदमाशों ने तानी पिस्टल

      संबंधित खबर

      error: Content is protected !!