अन्य
    Sunday, June 23, 2024
    अन्य

      करायपरसुराय में हंगामेदार रही पंचायत समिति की बैठक, कई मुद्दों पर हुई गरमागरम बहस

      करायपरसुराय (नालंदा दर्पण)। करायपरसुराय प्रखंड मुख्यालय सभागार भवन में आज सोमवार को पंचायत समिति की बैठक काफी हंगामेदार रही। कई मुद्दों पर गरमागरम बहस भी हुई।

      Panchayat Samiti meeting was noisy in Karayaparsurai heated debate took place on many issues 2पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत प्रखंड प्रमुख संगीता देवी की अध्यक्षता में शुरू हुई इस बैठक के दौरान सदन के सदस्यों ने कहा कि हमें भ्रष्टाचारी एवं लापरवाही कतई बर्दाश्त नहीं है। ऐसा करने वालों पर उचित कानूनी कार्रवाई के लिए वरीय अधिकारियों को लिखा जाएगा।

      इस बैठक में अध्यक्ष द्वारा कहा गया कि करायपरसुराय प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय करायपरसुराय के शिक्षक देवेंद्र कुमार आरोप लगाते हुए कहा गया कि स्कूल में न रहकर वे स्कूल भ्रमण करते हैं।

      बीआरसी के नाइट गार्ड शिवकुमार पर आरोप लगाया गया कि वे कार्यलय में नहीं रहते हैं। इनके द्वारा भी स्कूल भ्रमण कर राशि कि वसूली किया जाता हैं।

      वहीं, बैठक के दौरान सदस्य करायपरसुराय मुखिया तबस्सुम ने विभिन्न योजनाओं को सदन के पटल पर रखते हुए बहस की।

      उन्होंने कहा कि पूर्व के बैठक के प्रस्ताव पर क्यों करवाई नही होती है। सदन में राशन कार्ड बनाने में बिचौलियों द्वारा 15 सौ से लेकर 2 हजार रुपए तक वसूली किया जा रहा है।

      प्रश्न के जवाव देते हुए आपूर्ति विभाग ने कहा कि बिचौलियों की बात आती है तो वह गलत है, बिचौलियों को चिन्हित कर करवाई की जाएगी।

      सदन के सदस्य सत्येंद्र कुमार ने कहा कि मध्यान भोजन की गुणवत्ता ठीक ठाक नहीं है। प्रश्न का जवाव देते हुए मध्यान भोजन प्रभारी कहा कि मध्यान भोजन में गुणवत्ता शिकायत पहले था, लेकिन अभी ठीक ठाक है।

      करायपरसुराय सदस्त द्वारा कहा गया कि दुर्गा पूजा को देखते हुए करायपरसुराय के मुख्य बजार के बिजली के जर्जर तारों को बदला जाये।

      सदन में मनरेगा कम्प्यूटर आपरेटर पर आरोप लगते हुए कहा गया कि बिना राशि लिए किसी भी पांचयत का योजना इंट्री व मास्टर रोला निर्गत नहीं किया जाता है।

      इस सवाल का जवाब देते हुए मनरेगा पदाधिकारी ने कहा कि यह मामला संज्ञान में नहीं था। आज संज्ञान में आया है। कार्रवाई की जाएगी।

      सदन की बैठक में मनरेगा, जन वितरण प्रणाली, शिक्षा, स्वास्थ्य, आंगनबाड़ी, वन विभाग, पीएचडी के कार्य पर चर्चा करते हुए कई योजनाओं में विभिन्न प्रस्ताव लाए गए। बैठक में प्रखंड क्षेत्र के सभी पंचायत के पंचायत समिति सदस्य , मुखिया गण व अधिकारीगण उपस्थित थे।

      बैठक में सदस्यों एवं पदाधिकारियों के बीच नोकझोंक और शोर शराबा भी हुआ, लेकिन बैठक को शांतिपूर्वक निपटा लिया गया।

      बैठक में कई योजनाओं में अवैध उगाही का भी जिक्र किया गया। सदन द्वारा यह आश्वासन दिया गया कि यदि कोई शिकायत आती है तो उक्त विभाग के कर्मी नपेंगे। प्रतिनिधि और अधिकारी में भी समन्वय बना रहना जरूरी है।

      पंचायत के विकास हेतु जो भी कार्य हो नि:संकोच कहें। उसे आगे बढ़ाने हेतु अवश्य प्रयास किया जाएगा। साथ ही पंचायत में चल रहे जनकल्याणकारी योजनाओं पर विशेष ध्यान देने हेतु कहा गया।

      इस मौके पर कार्यपालक पदाधिकारी पंकज कुमार सिंह, कृषि पदाधिकारी जन्मजय प्रसाद सिन्हा, मुखिया अंजलि सिंह, दिनेश चौधरी, वीरेन्द्र प्रसाद, कंचन देवी, समिति रामानुज कुमार, भूनु पासवान, मोहम्मद सवीर हुसैन, बाल विकास परियोजना, पर्यवेक्षिका आदि मौजूद थे। बैठक में अनुपस्थित रहने बाले अधिकारी व कर्मी पर कार्रवाई की मांग किया गया।

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!