अन्य
    Monday, June 24, 2024
    अन्य

      राजगीर स्टेशन और बिहारशरीफ जंक्शन का हो रहा विस्तार, जानें बढ़ी सुविधाएं

      बिहारशरीफ (नालंदा दर्पण)। बिहारशरीफ जंक्शन का स्वरूप तेजी से बदल रहा है। एक साथ दो जोड़ी ट्रेनों के ठहराव हो रहा है। बिहारशरीफ जंक्शन का विस्तार होने से यात्रियों की चहल-पहल बढ़ गयी है। सुबह से देर शाम तक ट्रेनों की आवागमन से यहां रौनक बढ़ गयी है। यहां कई तरह के स्टॉल भी खुल गये हैं।

      पहले यहां के प्लेटफार्म नंबर वन की स्थिति यह थी कि महज चार-पांच बोगियां ही प्लेटफॉर्म पर आ पाती थी। शेष बोगी प्लेटफार्म के बाहर रह जाती थी। इससे खासकर महिलाओं, बच्चों, बुजुर्गों एवं दिव्यांगों को काफी परेशानी होती थी। पूर्व में यहां पर एक और दो नम्बर प्लेटफार्म होते थे जिसे बढ़ाकर तीन और चार कर दिया गया है।

      साथ ही प्लेटफार्म की लंबाई उत्तर की ओर आधे किलीमीटर बढ़ाई गयी है। जिससे बोगियों से चढ़ने उतरने में यात्रियों को सहूलियत होने लगी है। फिलहाल यहां पर शुद्ध पेयजल और वेटिंग रूम की भी व्यवस्था बनायी गयी है। 5 कई फुट ओवरब्रिज बनाये गये हैं। जगह-जगह पर पुरुष व महिला यात्रियों के लिए बैठका भी बनायी गयी है।

      टिकट मशीन भी लगायी गयी है, जिससे स्टेशन नाम व नंबर के साथ पैसा डालने पर मशीन से टिकट कट जाते हैं। साथ ही इस मशीन से किस रुट में कौन ट्रेन हैं, कितने बजे हैं, उसकी जानकारी भी मिल जाती है। यात्रियों की सुविधा के लिए स्टेशन पर इलेक्ट्रोनिक डिस्प्ले बोर्ड भी लगाये गये हैं।

      गत दस माह पूर्व अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत दानापुर मंडल के राजगीर, बिहारशरीफ स्टेशन समेत 13 स्टेशनों का शिलान्यास किया गया था। इस योजना के तहत पूर्व मध्य रेल के दानापुर मंडल में विभिन्न स्टेशनों का विकास किया जा रहा है।

      प्रथम चरण में दानापुर मंडल के अंतर्गत चयनित 13 स्टेशन (आरा, बिहिया, रघुनाथपुर, डुमरांव, दिलदारनगर, जमुई, जहानाबाद, राजगीर, बिहारशरीफ, फतुहा, बाढ़, बख्तियारपुर एवं तरेगना स्टेशन) पर अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत विकास कार्य शुरू किया गया है।

      अमृत भारत स्टेशन योजना दानापुर मंडल के राजगीर स्टेशन पर लगभग 21.20 करोड़ की लागत से, बिहारशरीफ स्टेशन पर लगभग 18.84 करोड़ की लागत से विकास कार्य किया जा रहा है।

      इस रुट पर चल रही है सात जोड़ी ट्रेनें:  बिहारशरीफ-पटना रुट पर करीब सात जोड़ी ट्रेनें प्रतिदिन चल रही हैं। सबसे पहले सुबह छह बजकर 11 मिनट से दानापुर मेमो स्पेशल, सुबह आठ बजकर 32 मिनट पर श्रमजीवी एक्सप्रेस, शाम तीन बजकर 47 मिनट पर पटना स्टेशल, शाम पांच बजकर आठ मिनट पर राजगीर एक्सप्रेस, शाम आठ बजकर 10 मिनट पर तिलैया-दानापुर पैसेंजर और रात दस बजकर चार मिनट पर बुद्धपुर्णिमा एक्सप्रेस ट्रेन हैं, जो बिहारशरीफ से पटना रुट के लिए खुलती है।

      सबसे अधिक दैनिक पैसेंजर उठाते हैं लाभ: बिहारशरीफ-पटना-राजगीर- गया रुट में ट्रेन चलने से सबसे अधिक दैनिक पैसेंजरों को लाभ मिल रहा है। पटना, बिहारशरीफ, राजगीर आदि क्षेत्रों में अधिकांश सरकारी व गैर सरकारी कार्यालयों में काम करने वाले कर्मचारी ट्रेनों से आना-जाना करते हैं।

      बस व अन्य वाहनों से कम खर्च व सुविधाजनक यात्रा को लेकर दैनिक पैसेंजर ट्रेन में सफर करना अधिक पसंद करते हैं। फिलहाल निर्माणाधीन फोरलेन में धूल व उबड़-खाबड़ बस की सफर करने से अधिक लोग ट्रेनों को पसंद कर रहे हैं।

      वर्ष 2009-10 में स्टेशन से जंक्शन का मिला था दर्जाः इस रूट पर चल रही हैं करीब 14 वर्ष पूर्व बिहारशरीफ, शेखपुरा, पटना जंक्शन समेत देश के 976 रेलवे स्टेशन को आदर्श स्टेशन बनाये की पहल की गई थी। आदर्श स्टेशन योजना 2009-10 में शुरू की गई थी। इस योजना के तहत अंतिम रूप से 976 स्टेशनों को चयनित किया गया था।

      इससे पूर्व भी 18 शहरों में बिहारशरीफ रेलवे स्टेशन को भी रेल आस्था सर्किट में जोड़ा गया था। रेल आस्था सर्किट से वैसे स्टेशनों को शामिल किया गया था जो धार्मिक महत्व के स्थलों से जुड़ा है। आदर्श बनने वाले स्टेशनों पर यात्रियों को स्वच्छ जल मुहैया कराने के लिए वॉटर वेंडिंग मशीन लगाई गई थी। इन स्टेशनों का प्लेटफार्म ऊंचा किया गया।

      प्लेटफार्म पर 24 रैक वाली लंबी दूरी की ट्रेनों का ठहराव हो, इसके लिए प्लेटफार्म का विस्तार का प्रस्ताव था। फुट ओवरब्रिज बनाने की शुरुआत की गई। पुरुष व महिला यात्रियों के बैठने के लिए अलग- अलग वेटिंग रूम बनाने का प्रस्ताव था। सुरक्षा के दृष्टिकोण से स्टेशनों पर सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गये। पार्किंग सुविधा उपलब्ध कराये गये।

      आदर्श बनने वाले स्टेशनों पर यात्रियों को विभिन्न स्टेशनों और पर्यटक स्थलों की दूरी साफ-साफ लिखा रहेगा। इससे दूर से आने वाले यात्रियों और पर्यटकों को कोई परेशानी नहीं हो। स्टेशन पर राजगीर, नालंदा, पावापुरी के दर्शनीय स्थलों की पेंटिंग दीवारों पर उकेरी करायी गयी।

      BPSC शिक्षकों को नहीं मिलेगें अन्य कोई छुट्टी, होगी कार्रवाई

      महिला की मौत के बाद अस्पताल में बवाल, तोड़फोड़, नर्स को छत से नीचे फेंका

      अब इन शिक्षकों पर केके पाठक का डंडा चलना शुरु, जानें बड़ा फर्जीवाड़ा

      देखिए केके पाठक का उल्टा चश्मा, जारी हुआ हैरान करने वाला फरमान, अब क्या करेंगे लाखों छात्र

      गोलीबारी की सूचना पर पहुंची पुलिस ने पिस्तौल-कारतूस समेत एक को पकड़ा

      1 COMMENT

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!
      Bihar Sharif covered with red flags regarding Deepnagar garbage dumping yard in nalanda Five great thoughts of Lord Buddha Major tourist places of Nalanda Bihar in India Nalanda Black Buddha Temple