अन्य
    Thursday, May 30, 2024
    अन्य

      इको फ्रेंडली है राजगीर वाइल्ड लाइफ जू सफारी का फायर सेफ्टी सिस्टम

      नालंदा दर्पण डेस्क। इन दिनों राजगीर पर्वतीय वनक्षेत्र हमेशा अगलगी की घटना की आशंका से घिरा रहता है। क्योंकि पिछले वर्ष 2023 के 16 अप्रैल से लेकर 18 अप्रैल के बीच, वैभारगिरि पर्वत श्रृंखला पर लगी चार दिनों तक भीषण आग की त्रासदी तथा इसी वर्ष 18 अप्रैल को विपुलांचलगिरि पर्वत की तलहटी में अगलगी की घटना काफी संवेदनशील है।

      ऐसे में वैभारगिरि और सोनागिरि पर्वत श्रृंखला की तलहटी में बसे वाइल्ड लाइफ जू सफारी तथा नेचर सफारी और इसके आस पास के जोन अगलगी के डेंजर जोन को टच करते हैं। तो फिर सवा ऊठता है कि फायर सेफ्टी के लिए जू सफारी प्रबंधन द्वारा क्या क्या उपाय और व्यवस्था रखी गई है।

      इस बाबत वाइल्ड लाइफ जू सफारी प्रबंधन का कहना है कि इस मौसम में अगलगी की आशंका के मद्देनजर राजगीर स्थित जू सफारी प्रशासन इसकी रोकथाम के लिए अलर्ट है। यहां का फायर सेफ्टी सिस्टम ईको फ्रेंडली रखा गया है। यहां अभी 22 की संख्या में फायर फाइटर लीफ ब्लोअर सहित विभिन्न उपकरणों तैनात हैं।

      एक दमकल सहित सफारी परिसर में दो जगह रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बनाया गया है। वर्षा जल को एकत्र करने के लिए अंडर ग्राउंड वाटर रिजर्वायर संप टैंक बनाए गए हैं। जिसमें लाखों गैलन लीटर बरसाती पानी का भंडारण रहता है। सफारी के पांचों घेरान में प्राकृतिक रूप से डिजाइन किए गए तालाब बनाए गए हैं। अगलगी की घटना में इसकी अहम भूमिका रहती है।

      अगर आग लगी भी तो परिसर में तैनात फायर फाइटर वहां से तत्काल टैंकर में पानी भरकर आग पर काबू पा सकेंगे। यहां का फायर फाइटिंग सिस्टम ईको फ्रेंडली है। यहां किसी भी कीमत पर सफारी में च्वलनशील पदार्थ ले जाने पर पाबंदी है।

      वहीं एसी सफारी बस की खिड़की पूरी तरह से पैक हैं। जिससे उसमें बैठे लोग सफारी में कुछ भी बाहर नहीं फेंक सकते सफारी के आसपास, पाथ वे के किनारे एवं सफारी की चारदिवारी तक फायर लाईन बनायी गई है। सूखे खर-पतवार की हमेशा सफाई कराई जाती है।

      जंगल की आग बुझाने की नई तकनीक लीफ ब्लोअर भी मंगाई गई है। खर-पतवार में लगी आग को लीफ ब्लोअर द्वारा आगे की ओर बढ़ती अगलगी श्रृंखला को संबंध विच्छेद कर दिया जाता है। जिससे आग वहीं पर सिमट कर रह जाती है। इससे दूर से ही आग के फैलाव पर काबू पाया जा सकेगा।

      यही नहीं, हर सप्ताहिक बंदी के दिन सोमवार को फायर सेफ्टी और उपकरणों का अवलोकन भी किया जाता है। जू ईको फ्रेंडली फायर सेफ्टी सिस्टम से लैस हैं। और हमारा वाइल्ड लाइफ जोन की फायर सेफ्टी सिस्टम अगलगी पर काबू पाने के लेकर दुरूस्त है। पर्यटक और अतिथी बेफिक्री से सफारी का आनंद लें सकते हैं।

      TRE-3 पेपर लीक मामले में उज्जैन से 5 लोगों की गिरफ्तारी से नालंदा में हड़कंप

      ACS केके पाठक के भगीरथी प्रयास से सुधरी स्कूली शिक्षा व्यवस्था

      दक्षिण बिहार ग्रामीण बैंक का बजट 2024-25 पर चर्चा सह सम्मान समारोह

      पइन उड़ाही में इस्लामपुर का नंबर वन पंचायत बना वेशवक

      अब केके पाठक ने लिया सीधे चुनाव आयोग से पंगा

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!