अन्य
    Monday, April 15, 2024
    अन्य

      सरकारी स्कूलों में फर्जी नामांकन रोकने के लिए उठाया बड़ा कदम

      बिहारशरीफ (नालंदा दर्पण)। नालंदा जिले के सरकारी स्कूलों में अब अभिभावक की अनुपस्थिति में बच्चों का नामांकन नहीं होगा। जिला शिक्षा पदाधिकारी के द्वारा सभी प्रारंभिक विद्यालयों में उक्त आशय का निर्देश दिया गया है।

      उन्होंने बताया कि सरकारी विद्यालयों में फर्जी नामांकन पर रोक लगाने के उद्देश्य से विभाग के द्वारा यह निर्देश दिया गया है। पिछले सत्र में ऐसा पाया गया कि जिन बच्चों का लंबे समय तक विद्यालय से अनुपस्थिति के कारण नाम काटने की अभिभावक दोबारा विद्यालय में शिकायत करने तक नहीं पहुंचे।

      ऐसे में माना जा रहा है कि सरकारी विद्यालयों में बड़ी संख्या में फर्जी विद्यार्थी भी नामांकित हैं अथवा ऐसे विद्यार्थी नामांकित हैं, जो नामांकित तो सरकारी विद्यालयों में रहते हैं, लेकिन पढ़ाई निजी विद्यालयों में करते हैं। ऐसे छात्र अभिभावकों का उद्देश्य सिर्फ सरकारी विद्यालयों में संचालित लाभुक योजनाओं का लाभ उठाना है न कि यहां बच्चों को पढ़ना है।

      उन्होंने बताया कि पहली कक्षा में भी नामांकन के लिए अब बच्चों के साथ उनके अभिभावकों को विद्यालय में उपस्थित होना अनिवार्य है। इसी प्रकार दूसरी कक्षा से लेकर आठवीं कक्षा तक में परीक्षा उत्तीर्ण कर अगली कक्षा में प्रोन्नति प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को भी अब बिना अभिभावक की उपस्थिति के अगली कक्षा में प्रोन्नति भी नहीं दी जाएगी। इससे फर्जी विद्यार्थियों के नामांकन पर रोक लगाने में सुविधा होगी।

      जिला शिक्षा पदाधिकारी ने बताया कि वर्तमान में जिले के सरकारी विद्यालयों में नामांकन के लिए विशेष नामांकन अभियान चलाया जा रहा है। विभिन्न कक्षाओं में अपने बच्चों के नामांकन के लिए इच्छुक अभिभावक अपने बच्चों के साथ अवश्य विद्यालय पधारें।

      पांच साल बाद नौकायन से फिर गुलजार हुआ सुभाष पार्क

      लोकसभा चुनाव और पर्व-त्योहार बहुत गरम हैं नालंदा डीएम-एसपी

      अब जीपीएस सिस्टम से यूं सुधरेगी पर्यटक शहर राजगीर की सफाई व्यवस्था

      चौथा दिन भी बंद है पूरा बाजार, जानें CM नीतीश के हरनौत का हाल

      होली मनाना पड़ा महंगा, 20 शिक्षकों पर कार्रवाई की अनुशंसा

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!