अन्य
    Friday, April 12, 2024
    अन्य

      चौथा दिन भी बंद है पूरा बाजार, जानें CM नीतीश के हरनौत का हाल

      हरनौत (नालंदा दर्पण)। नालंदा जिला में हरनौत बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का गृह प्रखंड और थाना क्षेत्र है। यहां जाने माने व्यवसायी अशोक साव की गोली मारकर सरेआम हत्या कर दी गई है। पुलिस अबतक हत्यारों का कोई सुराग पाने में विफल रही है।

      फिलहाल इस जघन्य वारदात को लेकर सारे व्यवसायी उबले हुए हैं। अशोक साव की हत्या के विरोध में आज लगातार पांचवें दिन भी व्यवसायी संघ के आह्वाहन पर हरनौत बाजार पूर्णतः बंद है। व्यवसायी संघ के बैनर तले सारे दुकानदार एकजुट होकर धरना प्रदर्शन भी कर रहे हैं और 28 मार्च से अशोक साव की हत्या के उद्भेदन तक हरनौत बाजार को अनिश्चितकालीन बंद कर रखा है।

      व्यावसायिक संघ के अध्यक्ष रंजीत कुमार का कहना है कि अशोक साव की हत्या के विरोध में सारे दुकानदार धरना पर बैठे हुए हैं। लेकिन जिला पुलिस प्रशासन को इसकी तनिक चंता नहीं है। उनके द्वारा किसी प्रकार की कोई पहल नहीं की गई है।

      हरनौत बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का गृह क्षेत्र है। यहाँ अपराध चरम सीमा पर है। व्यवसायियों के साथ रोज अपराधिक घटनाएं हो रही है। अपराधी घटनाओं को लेकर लोग वोट बहिष्कार तक करने जा रहे हैं। प्रशासन के द्वारा कोई आश्वासन नहीं मिल रहा है।

      इधर पिछले चार दिनों से हरनौत बाजार बंद रहने से लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उन्हें रोजमर्रा के सामान नहीं मिल रहे हैं। वे अन्य दूर के बाजार का रुख करने को विवश हैं।

      एक अनुमान के अनुसार हरनौत बाजार के बंद रहने से पिछले चार दिनों में 12 करोड़ से अधिक का कारोबार प्रभावित हुआ है। हरनौत बाजार में छोटे बड़े सात सौ से अधिक दुकानें हैं। उन सभी दुकानों में पिछले चार दिनों से ताले लटक रहे हैं।

      दरअसल, विगत 21 मार्च को हरनौत के बिचली बाजार निवासी अशोक साव की लूट के दौरान अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। वे सकसोहरा से तगादा कर घर वापस लौट रहे थे। इसी बीच हरनौत थाना क्षेत्र अंतर्गत अलीपुर बीरमपुर गांव के पास अपराधियों ने गोली मार दी थी। वे सूजी और मैदा के थोक व्यवसायी थे।

      होली मनाना पड़ा महंगा, 20 शिक्षकों पर कार्रवाई की अनुशंसा

      देसी कट्टा के साथ शराब पीते युवक का फोटो वायरल, जानें थरथरी थानेदार का खेला

      नालंदा जिला दंडाधिकारी ने इन 48 अभियुक्तों पर लगाया सीसीए

      राजगीर नेचर-जू सफारी समेत केबिन रोपवे का संचालन बंद

      नालंदा में 497 हेडमास्टर का वेतन बंद, शोकॉज जारी, जानें क्या है मामला

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!