अन्य
    Monday, April 15, 2024
    अन्य

      राजगीर की सड़कों पर यूं मलजल बन कर बह रही है गंगा

      राजगीर (नालंदा दर्पण)। अंतर्राष्ट्रीय पर्यटक शहर राजगीर के सीवरेज रोड में सीवरेज नाला ओवरफ्लो हो रहा है। सड़क किनारे बने नाले का पानी भी खुलेआम सड़क पर ही बहता है। इस कारण रोड की हालत नारकीय बन गयी है। जबकि प्रायः घरों में गंगा जल की आपूर्ती की जा रही है।

      लेकिन अब यहां के लोग यहां मलजल से होकर घरों और मंदिरों में जाने के लिए लोग मजबूर हैं। सबसे अधिक परेशानी स्कूली बच्चों की है। उन्हें भी उसी मलजल से होकर घर से स्कूल और स्कूल से घर जाना पड़ता है।

      अक्सर आने जाने वाले वाहनों से उनके स्कूल ड्रेस कीचड़ पड़ने से गंदे होते रहते हैं। बिना स्लैब के नाला रहने के कारण अक्सर दुर्घटनाएं भी होती रहती है। इस समस्या से जूझ रहे सीवरेज रोड किनारे वासियों का गुस्सा सातवें आसमान पर है। उनका आक्रोश कभी ज्वालामुखी की तरह फूट सकता है।

      वार्ड संख्या 26 के सीवरेज रोड में रहने वाले नगर वासियों ने नगर परिषद को एक सप्ताह में व्यवस्था सुधारने का अल्टीमेटम दिया है। इस अवधि में सीवरेज का ओवरफ्लो बंद नहीं हुआ, सड़कों पर पहले की तरह नाले के गंदे पानी बहते रहे, नाला पर स्लैब नहीं लगाया गया, तो व्यवस्था से अजिज नगरवासी कोई भी कठोर कदम उठा सकते हैं।

      वार्ड 26 के नागरिकों ने कटाक्ष करते हुए पूछा कि मुख्य पार्षद, उपमुख्य पार्षद, कार्यपालक पदाधिकारी, सीटी मैनेजर इस रोड से पैदल गुजरेंगे तो कैसा महसूस करेंगे। स्कूल जाने के दौरान उनके बच्चे के ड्रेस कीचड़ से गंदे हो जायेंगे तो कैसा महसूस करेंगे।

      लोगों के अनुसार सीवरेज रोड नरक बन गया है। इस रोड के सीवरेज की बात छोड़िये नाला की भी सफाई नहीं होती है। सफाई नहीं होने के कारण नाला गंदगी से बजबजा रहा है। नाला का पानी सालों सड़क पर बहता रहता है। शिकायत करने पर भी नगर परिषद द्वारा सफाई नहीं करायी जाती है।

      नागरिकों की माने तो नगर परिषद की अकर्मण्यता के कारण नगर की नरकीय हालत बन गयी है। सीवरेज और नाला का मलजल सड़क पर जमा होने से इस मार्ग से आवाजाही करने वालों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

      लोग वाहनों से गिरकर चोटिल भी हो रहे हैं। घरों में दुर्गंध के कारण रहना मुश्किल हो गया है। दुर्गंध के कारण पुरुष नाक पर रुमाल रखकर तो महिलाएं दुपट्टा और पल्लू रखकर आते जाते हैं। शिकायत है कि कुछ लोगों के द्वारा अतिक्रमण करने के कारण आये दिन वाहन मालिक एवं स्थानीय लोगों के बीच विवाद का सामना करना पड़ता है।

      वहीं इस संबंध में राजगीर नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी संतोष कुमार का कहना है कि शहर के वार्ड संख्या 26 के नागरिकों से मिली सूचना के आधार पर सीवरेज रोड के नाला की सफाई शुरु की गयी है। सीवरेज और नाला का पानी सड़क पर नहीं बहे, इसकी व्यवस्था नगर परिषद द्वारा किया जायेगा।  

      पांच साल बाद नौकायन से फिर गुलजार हुआ सुभाष पार्क

      लोकसभा चुनाव और पर्व-त्योहार बहुत गरम हैं नालंदा डीएम-एसपी

      अब जीपीएस सिस्टम से यूं सुधरेगी पर्यटक शहर राजगीर की सफाई व्यवस्था

      चौथा दिन भी बंद है पूरा बाजार, जानें CM नीतीश के हरनौत का हाल

      होली मनाना पड़ा महंगा, 20 शिक्षकों पर कार्रवाई की अनुशंसा

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!