अन्य
    Monday, April 15, 2024
    अन्य

      बच्चों के संपूर्ण विकास के लिए बहुत जरूरी है कृमिनाशक दवा

      राजगीर (नालंदा दर्पण)। बच्चों को कृमि के खतरे से बचाने के लिए मेयार पंचायत सहित राजगीर प्रखण्ड के सभी स्कूलों और आंगनबाड़ी केन्द्रों में कृमिनाशक दवा खिलाई जायेगी।

      राजगीर अनुमंडलीय अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ उमेश चन्द्र ने बताया कृमिनाशक दवा खिलाने के लिए आशा और आंगनबाड़ी सेविका को प्रशिक्षित किया गया। शहरी क्षेत्र के प्राथमिक स्कूलों, हाई स्कूलों और हायर सेकंडरी स्कूलों, निजी स्कूलों के बच्चों के अलावे आंगनबाड़ी केन्द्रों के बच्चों को दवा खिलाने के लिए प्रशिक्षण दिया गया है।

      प्रशिक्षण के दौरान एल्बेंडाजोल (कृमिनाशक दवा) खिलाने की विधि के बारे में जानकारी दी गई है। डॉ उमेश चन्द्र ने बताया कि बच्चों के संपूर्ण विकास के लिए कृमि नाशक दवा जरूरी है। एल्बेंडाजोल एक कृमि (पेट के कीड़े) नाशक दवा है, जिसे लेने से बच्चों के पेट के कीड़े खत्म हो जाते हैं।

      एक से दो वर्ष के बच्चों को एल्बेंडाजोल की आधी गोली पीसकर पानी में घोल कर दी जाती है, जबकि दो वर्ष से तीन वर्ष तक के बच्चों को एक गोली पीसकर दी जाती है। वहीं तीन वर्ष से 19 वर्ष तक के बच्चों व किशोर-किशोरियों को यह टेबलेट चबाकर खानी होती है।

      दवा सेवन से पहले थोड़ा बहुत खाना जरूर खाने की सलाह देनी चाहिए। 15 मार्च को समस्त स्कूलों के अलावा आंगनबाड़ी केंद्रों पर एक से पांच वर्ष तक के सभी पंजीकृत बच्चे, गैर पंजीकृत बच्चे और स्कूल न जाने वाले सभी बालक-बालिकाओं को आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा दवा खिलाई जाएगी।

      वहीं छह वर्ष से 19 वर्ष तक के सभी छात्र-छात्राओं को सरकारी सहायता प्राप्त प्राइवेट स्कूल, मदरसों, विद्यालयों में भी दवा खिलाई जाएगी। एक से दो साल के बच्चों को एल्बेंडाजोल की आधी गोली पीसकर पानी के साथ देनी है। दो साल से 19 साल तक के बच्चों को पूरी गोली चबाकर पानी के साथ खिलानी है।

      ध्यान रहे कि बच्चा खाली पेट न हो। टेबलेट लेने से पहले वह खाना खाया हो। बताया गया कि हर आंगनबाड़ी केंद्र और स्कूल में बच्चों को कीड़े की दवा खिलाई जाएगी। बीमारी से ग्रसित और दवा खा रहे बच्चों को यह टैबलेट नहीं खिलाने की हिदायत दी गयी है।

      उप स्वास्थ्य केंद्र मेयार में आयोजित प्रशिक्षण में आशा, एएनएम को राष्ट्रीय कृमि दिवस के मौके पर एलबेंडाजोल दवा खिलाने की ट्रेनिंग दी गयी। गर्भवती महिलाओं को स्वास्थ्य सबंधित देख रेख के बारे में बताया गया है।

      बरगद के पेड़ से झूलता मिला डेंटल कॉलेज की महिला सफाईकर्मी की लाश

      प्रेम प्रसंग में पड़ी महिला की हत्या कर बरगद की डाली से टांग दिया

      मंत्री श्रवण कुमार की मानसिक हालत बिगड़ी, चंदा कर ईलाज कराएगी राजद

      नाबालिग संग दुष्कर्म मामले में दोषी को 20 साल कठोर कारावास की सजा

      PM मोदी ने राजगीर रेलवे स्टेशन पर किया खाजा स्टॉल का शुभारंभ

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!