अन्य
    Friday, April 12, 2024
    अन्य

      नालंदा के सभी स्कूलों के बच्चों को ताजा अंडा और फल देने का आदेश

      नालंदा दर्पण डेस्क। नालंदा जिले के सभी विद्यालयों में सभी वर्ग के छात्र- छात्राओं की उपस्थित पहली घंटी में सुबह 10:00 बजे तक उपस्थिति पंजी में दर्ज करना अनिवार्य किया गया है। मध्याहन भोजन योजना पंजी को 11 बजे तक अपडेट करना आवश्यक किया गया है।

      उपस्थिति दर्ज होने के बाद फल एवं अंडा खाने वाले बच्चों की वांछित संख्या चिन्हित कर अंडा अथवा फल (सेब या केला) प्राप्त किया जाएगा। अंडा खाने वाले चिन्हित छात्र- छात्राओं की संख्या के अनुरूप अंडा उपलब्ध कराया जाएगा। अंडा अथवा फल हर हाल में गुणवत्ता पूर्ण होना चाहिए।

      बिहार मध्याह्न भोजन योजना के निदेशक मिथिलेश मिश्रा द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि बच्चों को अंडा या फल यथा संभव मध्यान भोजन के साथ देना आवश्यक है। यदि स्थानीय स्तर पर व्यवस्था में देर होता है तो अवकाश के समय दिया जा सकता है।

      साथ ही यह भू सुनिश्चित करना है कि सभी बच्चों को अंडा अथवा फल मिल गया है। यदि अंडा अथवा फल बच्चों के वितरण करने के बाद बच जाता है, तो यह समझ जाएगा कि बच्चों की भौतिक उपस्थिति के आधार पर अंडा अथवा फल प्राप्त नहीं किया गया है।

      बासी अंडा या फल अगले दिन नहीं दिया जायेगाः बचे अंडा अथवा फल को किसी भी परिस्थिति में अगले कार्य दिवस में खाने के लिए नहीं दिया जाना है। इससे फूड प्वाइजनिंग की संभावना बनी रहती है। ताजा अंडा अथवा फल ही बच्चों को खाने के लिए उपलब्ध कराना अनिवार्य है। कटा हुआ या खराब अंडा अथवा फल किसी भी परिस्थिति में बच्चों को खाने के लिए नहीं दिया जायेगा।

      निदेशक ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि प्रधान शिक्षक के अवकाश पर रहने पर मध्यान्ह भोजन योजना से संबंधित सभी पंजी प्रभारी प्रधानाध्यापक अथवा वरीय शिक्षक को अनिवार्य रूप से हस्तगत करना होगा।

      निदेशक ने यह भी कहा है कि नवंबर 2017 से मध्यान भोजन योजना की साप्ताहिक मीनू में प्रत्येक शुक्रवार अथवा सोमवार को एक संपूर्ण उबला अंडा अथवा मौसमी फल सभी बच्चों को दिए जाने का प्रावधान किया गया है।

      कहा गया है कि विगत दिनों निरीक्षण के दौरान पाया गया कि एक विद्यालय के कमरे में ताला लगा हुआ था। खुलवाने पर देखा गया कि एक बाल्टी में उबला हुआ अंडा भरा है। यह घटनाक्रम लगभग 4:00 बजे का था। तब तक पंजी में बच्चों की उपस्थिति दर्ज नहीं की गई थी।

      किसान कॉलेज के प्रोफेसर संग अभद्र व्यवहार के लिए माफी मांगे मंत्री श्रवण कुमार : छोटे मुखिया

      बरगद के पेड़ से झूलता मिला डेंटल कॉलेज की महिला सफाईकर्मी की लाश

      प्रेम प्रसंग में पड़ी महिला की हत्या कर बरगद की डाली से टांग दिया

      मंत्री श्रवण कुमार की मानसिक हालत बिगड़ी, चंदा कर ईलाज कराएगी राजद

      नाबालिग संग दुष्कर्म मामले में दोषी को 20 साल कठोर कारावास की सजा

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!