अन्य
    Sunday, April 21, 2024
    अन्य

      दलालों-बिचौलियों का अड्डा बना पावापुरी विम्स अस्पताल, हड्डी वार्ड बनी मिसाल

      पावापुरी (मुन्ना)। नालंदा जिला का सबसे बड़ा पावापुरी विम्स अस्पताल में मरीजों के साथ सौतेला व्यवहार किया जाता है। यहाँ बिना दलालों और बिचौलियों को नजराना चढ़ाए सही ढंग से ईलाज नहीं किया जाता है। 

      Pawapuri Vims Hospital became a den of brokers and middlemen bone ward became an example 2इसकी जानकारी देते हुए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के जिलाध्यक्ष राजकुमार पासवान  ने बताया कि पावापुरी विम्स अस्पताल में मरीजों से मिलने और पूछताछ करने हड्डी विभाग गया तो पता चला कि यहँ कोई व्यवस्था नहीं है। मरीज को दर्द भी होता है तो नर्स या डाक्टर देखने नहीं आते हैं।

      उन्होंने बताया कि जो मरीज यहां के दलालों बिचौलियों को हज़ार दो हज़ार की वसूली देते हैं, वे उन्हें ही देखते हैं और सही से इलाज करते हैं। अस्पताल के इस वार्ड में एक पंखा तक नहीं है। मरीजों को बेड सीट तक नहीं मिलता है।

      उन्होंने बताया कि यहां के वाथ रूम के नल‌ से जल नहीं गिरता है और दरवाजा भी नहीं लगता है। जबकि राज्य सरकार इस अस्पताल को हरेक साल तीन करोड़ रुपए व्यवस्था के लिए देती है।

      7 COMMENTS

      Comments are closed.

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!