अन्य
    Monday, April 15, 2024
    अन्य

      RMP डॉक्टर की लापरवाही से गई महिला की जान, परिजनों ने किया हंगामा

      सिलाव (नालंदा दर्पण)। सिलाव नगर पंचायत क्षेत्र अंतर्गत एक निजी अस्पताल के आरएमपी डॉक्टर के द्वारा ऑपरेशन के दौरान लापरवाही बरतने के कारण एक महिला की मौत हो गयी। इससे गुस्साए मृतक के परिजनों ने शुक्रवार को अस्पताल में जमकर हंगामा किया।

      अस्पताल के आरएमपी ने गुरुवार की शाम सिलाव थाना क्षेत्र के माधोपुर गांव की 45 वर्षीया महिला प्रविला देवी पति रामबली पासवान का अपेंडिक्स का ऑपरेशन किया था। ऑपरेशन के कई घंटे बाद भी होश में नहीं आने के बाद महिला को शुक्रवार को अस्पताल के डॉ द्वारा उसे पटना रेफर कर दिया गया।

      लेकिन जैसे महिला को परिजन ले जाने लगे तो देखा कि महिला की मौत हो चुकी है। इसे देख मृतका के परिजन आक्रोशित हो उठे और जमकर हंगामा करना शुरू कर दिया। वे करीब दो घंटे तक हंगामा करते रहे।

      मृतक की बहन लाखो देवी एवं भाई अर्जुन कुमार ने आरएमपी डॉक्टर को मौत का जिम्मेदार ठहराते हुए बताया कि ऑपरेशन के लिए भर्ती किया और दस हजार रुपये चार्ज दिया था, लेकिन कोई कुशल चिकित्सक से ऑपरेशन नहीं करवा खुद आरएमपी डॉक्टर ने ही ऑपरेशन किया है। ऑपरेशन के बाद से ही मरीज की हालत खराब हो गयी थी।

      परिजनों ने आरोप लगाया कि डॉक्टर की अनुभवहीनता के कारण ऑपरेशन के दौरान पेशाब नली को ही काट दिया गया है। जिससे उसकी मौत हो गयी। हंगामा होने की सूचना पाकर स्थानीय पुलिस भी मौके पर पहुंची।

      इधर, अस्पताल के डॉक्टर ने मृतक के परिजन को एक लाख रुपये देकर मामले को रफा दफा कर लिया।

      इस संबंध में नालंदा थाना प्रभारी निशि कुमार बताया कि हंगामा होने की सूचना पर विधि व्यवस्था को लेकर पुलिस दल भेजा गया था, लेकिन मृतक के परिजन बिना पोस्टमार्टम करवाये ही शव को अपने साथ ले गए। यदि कोई लिखित शिकायत किया जाएगा तो अग्रेतर कारबाई किया जाएगा।

      किसान कॉलेज के प्रोफेसर संग अभद्र व्यवहार के लिए माफी मांगे मंत्री श्रवण कुमार : छोटे मुखिया

      बरगद के पेड़ से झूलता मिला डेंटल कॉलेज की महिला सफाईकर्मी की लाश

      प्रेम प्रसंग में पड़ी महिला की हत्या कर बरगद की डाली से टांग दिया

      मंत्री श्रवण कुमार की मानसिक हालत बिगड़ी, चंदा कर ईलाज कराएगी राजद

      नाबालिग संग दुष्कर्म मामले में दोषी को 20 साल कठोर कारावास की सजा

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!