अन्य
    Friday, April 12, 2024
    अन्य

      हिलसा नगर में अधिवक्ता लिपिक को मारकर फंदा से लटका दिया

      हिलसा (नालंदा दर्पण)। हिलसा थाना पुलिस ने नगर में एक किराये के मकान में रह रहे एक अधिवक्ता लिपिक का शव पुलिस ने बरामद किया है। हत्या की आशंका जतायी जा रही है।

      खबरों के अनुसार हिलसा के दक्षिणी पटेल नगर मोहल्ले में किराये के मकान में अधिवक्ता लिपिक राकेश कुमार वर्षों से रह रहे थे। मृतक नालंदा जिले के छबिलापुर थाना क्षेत्र के कटारी गांव निवासी नवल किशोर प्रसाद के 45 वर्षीय पुत्र राकेश कुमार बताए जाते हैं।

      पुलिस ने बताया कि मृतक शहर के पटेल नगर में किराये के मकान में रहकर हिलसा कोर्ट में अधिवक्ता लिपिक का काम करते थे। शनिवार को कोर्ट का काम काज निपटाने के बाद वे चले अपने रूम पर चले गए। और  सुबह उनकी लाश कमरे से पुलिस के द्वारा बरामद की गयी।

      लिपिक का शव मिलते ही इलाके में सनसनी फैल गयी। देखने के लिए आसपड़ोस के लोगों की भीड़ जुट गई। घटना की जानकारी मिलते ही परिवार वालों में कोहराम मच गया। परिजन पहुंचे। उसके बाद पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु बिहारशरीफ सदर अस्पताल भेज दिया।

      हालांकि परिजनों का कहना है कि राकेश को साजिश के तहत किसी ने हत्या कर दी है। कानून से बचने के लिए अपराधकर्मियों ने गला में फंदे डाल दिया है। गला पर किसी प्रकार का निशान नहीं पाया गया है। घटनास्थल से मिले राकेश की डायरी में अंकित शब्द हत्या को दर्शा रहा है।

      उन्होंने पुलिस प्रशासन से मामले में उचित जांच कर कार्रवाई की मांग की है। वहीं थानाध्यक्ष अभिजीत कुमार ने बताया कि इस मामले में परिजन के द्वारा आवेदन नहीं मिला है। आवेदन मिलने पर अग्रेतर कार्रवाई की जाएगी।

      फिलहाल शव को पोस्टमार्टम कराकर परिजन को सौंप दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही हत्या या आत्महत्या का खुलासा ही पायेगा।

      मृतक के कमरे से मिली डायरी: कमरे लाश होने की सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल से एक डायरी बरामद किया है। जिसमें लिपिक के हाथों लिखी गई आपबीती कहानी से न सिर्फ परिजन सकते में पड़ गए, बल्कि प्रशासन में भी संस्पेंस बना हुआ है।

      परिजन ने बरामद डायरी में लिखा हुआ हैंडराइटिंग लिपिक का ही होने का दावा किया है। जिसमें लिखा है कि बीते 8 मार्च को किसी ने फोन कर जमीन खरीदने के लिए पहले तीन लाख फिर दो लाख रुपये की मांग की गयी है। नहीं देने पर छेड़खानी का झूठा मुकदमा में फंसाने व जान मारने की धमकी दी गयी है। उसके बाद से वे काफी डरे व सहमे थे। घटनास्थल से डायरी मिलने के बाद पुलिस हर बिंदु पर बारीकी से जांच पड़ताल करने में जुट गई है।

      राजगीर एयरपोर्ट निर्माण की प्रशासनिक तैयारी में तेजी, जमीन की पैमाइश शुरु

      नालंदा के सभी स्कूलों के बच्चों को ताजा अंडा और फल देने का आदेश

      किसान कॉलेज के प्रोफेसर संग अभद्र व्यवहार के लिए माफी मांगे मंत्री श्रवण कुमार : छोटे मुखिया

      बरगद के पेड़ से झूलता मिला डेंटल कॉलेज की महिला सफाईकर्मी की लाश

      प्रेम प्रसंग में पड़ी महिला की हत्या कर बरगद की डाली से टांग दिया

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!