अन्य
    Monday, June 24, 2024
    अन्य

      महिला टीकाकरण कर्मियों को नशेड़ी वार्ड सदस्य ने बनाया बंधक, गिरफ्तार

      हिलसा (नालंदा दर्पण)। करायपरसुराय प्रखंड अंतर्गत करायपरसुराय पंचायत के जोगल विगहा ग्राम में एक नशेड़ी वार्ड सदस्य द्वारा टीकाकरण करने गई महिला कर्मियों को बंधक बनाकर उनके साथ गाली-गलौज और दुर्व्यवहार करने का मामला सामने में आया है।

      खबर है कि करायपरसुराय प्रखंड मुख्यालय से तीन किलोमीटर दूर उत्तर क्षेत्र में अवस्थित आंगनबाड़ी केंद्र 86 में वैक्सीनेशन के दौरान कुछ शरारती तत्व नशे की हालत में टीकाकरण करने गयी महिला कर्मियों को न सिर्फ टीकाकरण करने से रोका, बल्कि अपराधियों ने तलवार लेकर टीकाकरण कर रही महिलाओं के साथ बंधक भी बना लिया।

      इस बात की सूचना स्थानीय पुलिस प्रशासन को दी गयी। तब करायपरसुराय थाना की पुलिस ने मौके पर जाकर महिला कर्मियों को मुक्त कराया।

      इस संबंध में वहां कार्यरत एएनएम खुशबू कुमारी, आशा चंचल कुमारी, आशा फैसिलिटेटर गीता कुमारी और आंगनबाड़ी केंद्र की सेविका रिंकी कुमारी ने बताया कि वे लोग दिन के 12 बजे टीकाकरण के लिए गए थे और नौ लोगों को टीका दे चुके थे। इसी दौरान करीब दो बजे गांव के ही वार्ड सदस्य राजकुमार केवट एवं अन्य लोग नशे की हालत में तलवार लेकर आए हंगामा करने लगे। हंगामा के दौरान लोगों ने गेट को बंद कर दिया। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। जिसके बाद करायपरसुराय थाना की पुलिस ने मौके पर नशेड़ी वार्ड पारषद राजकुमार केवट को गिरफ्तार कर लिया।

      इस घटना की पुष्टि करते हुए चिकित्सा पदाधिकारी अरुण कुमार ने बताया कि आंगनबाड़ी केंद्र 14 लोगों का टीकाकरण होना था। 11 लोगों का टीकाकरण हो चुका था। इसी दौरान कुछ नशेड़ियों ने तलवार लेकर हंगामा किया। इसके बाद जब वे लोग वैक्सीनेशन बंद कर वहां से आने लगे तो सभी को बंधक बना कर कहीं आने जाने नहीं दिया गया।  उनके साथ गाली गलौज और दुर्व्यवहार किया गया।

      इसकी सूचना पाकर पुलिस प्रशासन तुरंत हरकत में आई और वैक्सीनेशन स्थल पहुंचकर सभी बंधक एएनएम, आंगनवाड़ी सेविका एवं आशा महिला संगठन की महिला सहित कुल चार लोगों को मुक्त कराया। चिकित्सा पदाधिकारी अरुण कुमार ने कहा कि यह मामला दुर्भाग्यपूर्ण है।

      चिकित्सा पदाधिकारी ने कहा कि अपनी जान पर खेलकर जो महिलाकर्मी दूसरे की जान की रक्षा हेतु गांव-गांव में जाकर सरकारी आदेश का पालन कर टीकाकरण कर रहे हैं। इनके साथ दुर्व्यवहार करना मानवता के खिलाफ है। ऐसे लोगों को बख्शा नहीं जाएगा। सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने वाले व्यक्तियों पर कार्रवाई की जाएगी।

      उन्होंने कहा कि महिला स्वास्थ्य कर्मी दूरस्थ जगहों पर जाकर घर-घर घूमकर अपना कार्य करती हैं। ऐसे में उनके साथ असामाजिक तत्वों के द्वारा गाली गलौज और बंधक बनाना कार्य करना सरासर गलत है। इस घटना के बाद महिला कर्मियों में भय का वातावरण बना है। घटना को अंजाम देने वालों के प्रति कारवाई करने की प्रक्रिया की जा रही है।

      वहीं, थानाध्यक्ष अमित कुमार सिंह ने बताया कि घटना की जानकारी मिलते ही घटनास्थल पर पहुंचकर मौके से नशे की हालत में वार्ड सदस्य राजकुमार केवट को गिरफ्तार किया गया है। इस मामले में आंगनबाड़ी केंद्र एवं एएनएम द्वारा आवेदन नहीं मिला है। आवेदन मिलते ही आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

      हिलसा नगर परिषद क्षेत्र में वोट वहिष्कार, वजह जान हैरान रह जाएंगे आप

      छात्रों की 50% से कम उपस्थिति पर हेडमास्टर का कटेगा वेतन

      नालंदा पुरातत्व संग्रहालय: जहां देखें जाते हैं दुनिया के सबसे अधिक पुरावशेष

      भाभी संग अवैध संबंध का विरोध करने पर पत्नी की हत्या

      शिक्षक ने स्कूल में बद कर छात्रा संग की थी छेड़खानी, एफआईआर दर्ज

      1 COMMENT

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!
      राजगीर वेणुवन की झुरमुट में मुस्कुराते भगवान बुद्ध राजगीर बिंबिसार जेल, जहां से रखी गई मगध पाटलिपुत्र की नींव राजगीर गृद्धकूट पर्वत : बौद्ध धर्म के महान ध्यान केंद्रों में एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल राजगीर का पांडु पोखर एक मनोरम ऐतिहासिक धरोहर महाभारत, मगध साम्राज्य तथा बौद्ध काल की अनमोल धरोहर है राजगीर पिपली गुफा