अन्य
    Monday, April 15, 2024
    अन्य

      फिल्म दृश्यम की तर्ज पर की गई थी चरित्रहीन युवक की लिंग काटकर हत्या

      हरनौत (नालंदा दर्पण)। हरनौत थाना क्षेत्र अंतर्गत चेरो ओपी के हिराजीत त्रिमुहानी के समीप से 3 मार्च को एक युवक का शव बरामद हुआ था, जिसका प्राइवेट पार्ट भी कटा हुआ था। इस मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने इस कांड में शामिल पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

      बिहारशरीफ सदर डीएसपी नुरुल हक के अनुसार 3 मार्च को चेरो ओपी के तहत हिराजीत तीनमोहनी के समीप से एक व्यक्ति का शव, जिसका लिंग काटकर वहीं फेंक दिया गया था, पुलिस ने बरामद की थी।

      उन्होंने बताया कि इस जगह में हत्या का कांड दर्ज कर अनुसंधान प्रारंभ किया गया था। हरनौत थाना क्षेत्र के चखामिन गांव निवासी अभिनव कुमार उर्फ विकास कुमार का शव पाया गया था।

      उन्होंने बताया कि अनुसंधान के क्रम में पाया गया है कि एक प्लानिंग एवं साजिश के तहत मृतक को 2 मार्च को हरनौत ब्लॉक फील्ड में बुलाकर नशे की हालत में गमछे से गला दबाकर हत्या कर दी गई थी और शव को पोलो गाड़ी में लादकर घटनास्थल पर ले जाकर फेंक दिया गया था। इसके बाद अपराधियों ने उसका लिंग काटकर वही फेंक दिया था।

      सदर डीएसपी ने बताया कि घटना में शामिल अपराधियों ने बताया कि मृतक संदिग्ध चरित्र का था तथा कई महिलाओं से अवैध संबंध था। वह कई महिलाओं को अपने जाल में फंसा कर अवैध संबंध के लिए ब्लैकमेलिंग कर रहा था। वह अन्य कई गलत गतिविधियों में भी शामिल था।

      डीएसपी के अनुसार घटना में शामिल अपराधी में कुछ अपराधी उसके दोस्त थे और कुछ उसके साथ पूर्व में काम किए हुए हैं। लगभग 5-6 महीने पूर्व से ही हत्या करने का प्रयास किया जा रहा था, लेकिन पिछले एक माह से हत्या करने के लिए प्लानिंग के तहत 2 फर्जी सिम लिया गया, जिसे सिर्फ मृतक से बात की जाती थी, ताकि अन्य किसी को पता ना चल सके।

      सदर डीएसपी ने बताया कि घटना कारित करने के बाद एक फर्जी सिम एवं मोबाइल तथा मृतक का मोबाइल को एनएच से जाती बस एवं ट्रक में अलग-अलग फेंक दिया गया। ताकि अनुसंधान दिगभ्रमित हो सके और फर्जी एक सिम को तोड़ भी दिया गया।

      उन्होंने बताया कि उक्त मोबाइल तथा दूसरे फर्जी मोबाइल का डब्बा भी बरामद किया गया है। घटना में प्रयुक्त गमछा खून लगा, अन्य कपड़ा तथा घटना में प्रयुक्त वाहन को भी बरामद कर ली गई है।

      सदर डीएसपी ने बताया कि घटना में सम्मलित पांच अपराधियों की गिरफ्तारी की गई है। हत्याकांड में शामिल अपराधी योजना कारित करने एवं मुख्य भूमिका निभाने वाला महतावर गांव निवासी सहजानंद सिंह का पुत्र संतोष कुमार उर्फ मोनू तथा सिरचंदपुर गांव निवासी मुन्नाराम का पुत्र कुंदन कुमार है। इसके अलावा संतोष उर्फ मोनू मृतक के गांव का रिश्तेदार बताया जाता है।  घटना में शामिल अपराधकर्मियों तथा इसे फाइनेंस करने वाले अन्य व्यक्तियों के विरुद्ध अनुसंधान जारी है।

      सदर डीएसपी ने बताया कि इस घटना में शामिल गिरफ्तार अभियुक्तों में शिरचंदपुर गांव निवासी स्वर्गीय विजय मलिक का पुत्र राजा कुमार और रंजन कुमार दोनों आपस में सहोदर भाई है तथा रामपति पासवान का पुत्र राजवीर कुमार उर्फ दिवाकर शामिल हैं।

      बता दें कि अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए एक टीम का गठन किया गया था जिसमें ट्रेनी डीएसपी मोहम्मद अजहरूद्दीन, ट्रेनी डीएसपी आसिफ आलम, नूरसराय अंचल निरीक्षक मनोरंजन भारती, हरनौत थाना अध्यक्ष मोहम्मद अबू तालिब अंसारी, अपार थानाध्यक्ष मिलन कुमार राय, जिला सूचना इकाई के साथ-साथ हरनौत थाने की पुलिसकर्मी शामिल थे।

      PM मोदी ने राजगीर रेलवे स्टेशन पर किया खाजा स्टॉल का शुभारंभ

      बिहारशरीफ नगर के गौरागढ़ मोहल्ला से 6 स्मैक तस्कर धराए

      परवलपुर प्रखंड भाजपा ने जदयू सांसद के खिलाफ मुहिम छेड़ी

      अब अस्पतालों में दीदी की रसोई के साथ दीदी की सफाई भी देखने को मिलेगी

      सांसद ने राजगीर-बख्तियारपुर मेमू स्पेशल के ठहराव का किया शुभारंभ

       

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!