अन्य
    Monday, June 24, 2024
    अन्य

      ACS केके पाठक ने भीषण गर्मी में भी शिक्षकों को नहीं दी राहत, जाने ताजा आदेश

      नालंदा दर्पण डेस्क। बिहार सरकार के मुख्य सचिव के आदेश से सभी सरकारी गैर सरकारी स्कूलों एवं अन्य शिक्षण संस्थानों के छात्र-छात्राओं को ही भीषण गर्मी एवं लू से राहत मिली है। सरकारी स्कूलों में सिर्फ शैक्षणिक कार्य बंद रहेंगे। स्कूल खुले रहेंगे। और शिक्षक पूर्व की भांति ससमय उपस्थित रहेंगे।

      वैशाली जिला शिक्षा पदाधिकारी ने सभी प्रारंभिक, माध्यमिक, उच्च माध्यमिक विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों को भीषण गर्मी एवं लू से बचने के उपाय से संबंधित कार्रवाई सुनिश्चित करने के संबंध एक पत्र जारी किया गया है।

      इस पत्र में उल्लेख है कि बिहार सरकार के मुख्य सचिव उपर्युक्त विषयक प्रासंगिक पत्र के आलोक में एवं बिहार शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक के द्वारा संध्याकालीन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में दिए गए निर्देश के आलोक में अप्रत्याशित भीषण गर्मी के साथ लू (Heat wave) के प्रकोप के देखते हुए जिले के सभी सरकारी एवं निजी विद्यालय (कोचिंग संस्थान सहित) में 30 मई 2024 से 8 मई 2024 तक शिक्षण कार्य पूर्णतः बंद रहेगा।

      वहीं सभी प्रधानाध्यापक, शिक्षक, शिक्षिका पूर्व के भाँति निर्धारित समयानुसार विद्यालय में उपस्थित होकर गैर शैक्षणिक कार्यो का निष्पादन करेंगे। इस तरह के आदेश से शिक्षक-शिक्षिकाओं में भारी नाराजगी देखी जा रही है।

      BPSC शिक्षकों को नहीं मिलेगें अन्य कोई छुट्टी, होगी कार्रवाई

      महिला की मौत के बाद अस्पताल में बवाल, तोड़फोड़, नर्स को छत से नीचे फेंका

      अब इन शिक्षकों पर केके पाठक का डंडा चलना शुरु, जानें बड़ा फर्जीवाड़ा

      देखिए केके पाठक का उल्टा चश्मा, जारी हुआ हैरान करने वाला फरमान, अब क्या करेंगे लाखों छात्र

      भीषण गर्मी से बीपीएससी शिक्षिका और दो छात्र-छात्रा हुए बेहोश

      3 COMMENTS

      1. बिहार सरकार से मेरा आग्रह है कि, तत्कालिन ACS मुझे या तो मनोरोगी है या सांसारिक विचलित है। तभी तो वो ऐसे बेढंगे, बेबुनियाद, असामाजिक, असहनीय, दंडनीय निर्णय लेता जा रहा है और यहां कि जनता या सरकार मौनव्रत धारण कि हुईं है।
        ऐसे ACS को तो अभी तक किसी मनोचिकित्सक डॉ के यहां भर्ती करा देना चाहिए था।

      2. Main to sirf itna kahna chahunga ki Pathak ji ke taraf se teachers ke liye jo v amanviya farmaan jari karta hai, uske liye God unhe kavi maf nhi karega, unki hii jarur lagegi

      3. एस कुकुर पाठक को पक्का बचपन में कोई टीचर दो तीन साल तक पिचवार को बैंड बजाया है तभी तो एस हरामी मादरचोद को टीचर से एताना खुन्नस है. एस गजेरी नीतीश कुमार को देखिये. चुप चाप बैठा है. क्यों की मैंने एक वीडियो देखा था जिसमें नीतीश के बारे में एक बूढ़ा बोल रहा था वह जागेरी के बारे में था। और गाली भी दे रहा था खुलेआम.

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!
      राजगीर वेणुवन की झुरमुट में मुस्कुराते भगवान बुद्ध राजगीर बिंबिसार जेल, जहां से रखी गई मगध पाटलिपुत्र की नींव राजगीर गृद्धकूट पर्वत : बौद्ध धर्म के महान ध्यान केंद्रों में एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल राजगीर का पांडु पोखर एक मनोरम ऐतिहासिक धरोहर