अन्य
    Friday, June 21, 2024
    अन्य

      हिलसा नगर में खुदाई के दौरान प्रकट हुए भगवान विष्णु को लेकर दो गुट भिड़े

      हिलसा (नालंदा दर्पण)। हिलसा नगर परिषद क्षेत्र के वार्ड संख्या चार स्थित न्यू बस स्टैंड के पास जमीन की खुदाई के दौरान भगवान विष्णु की आकर्षक प्रतिमा मिली है। जिसे देखने और पूजने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी और मंदिर बनाने के सवाल पर दो गुट आपस में भिड़ गए। फिर पुलिस-प्रशासन की पहल पर फिलहाल किसी तरह मामला को शांत करा दिया गया है।

      बताया जाता है कि हिलसा नगर परिषद क्षेत्र के वार्ड संख्या चार स्थित न्यू बस स्टैंड के पास जमीन की खुदाई चल रही थी, इसी दौरान अचानक भगवान विष्णु की आकर्षक प्रतिमा प्रकट हो गई।

      फिर क्या था, प्रतिमा मिलने की खबर जंगल की आग की तरह पूरे नगर के साथ आसपास के गांवों में फैल गई और देखते ही देखते सैकड़ों लोग वहां पर इकट्ठा हो गए और भगवान विष्णु की प्रतिमा की पूजा अर्चना करनी शुरू कर दी।

      इसी बीच लोग खुदाई स्थल पर भगवान विष्णु की मंदिर बनाने की बात करने लगे। इसको लेकर जमीन मालिक एवं स्थानीय लोगों के बीच में तनाव पैदा हो गया है। तनाव की सूचना मिलते ही हिलसा थानाध्यक्ष एवं अंचलाधिकारी पहुंचे और दोनों पक्ष के लोगों को समझा बुझा कर मामला को शांत कराया।

      लोगों का कहना है कि यह रासमण्डली के नाम से जमीन है, जो गैरमजरूआ है। यहां सैकड़ो साल से पूर्वज से ही पूजा होते आ रही है। पूर्वज लोग कहते थे कि यहां पर मिट्टी का मंदिर था। जो सैकड़ों साल पहले मिट्टी से भर जाने के कारण पता नही चलता था। हालांकि इनकी नाम से यहां पूजा भी होते आ रहा है। रासमण्डली होता था। उस समय रात के 12 बजे यहां से बासुरी का आवाज आती थी।

      इधर जमीन मालिक का कहना है कि यह उनकी निजी जमीन है। जबकि श्रद्धालुओं का कहना है कि जिस स्थान पर भगवान विष्णु की प्रतिमा मिली है, वह जगह आम गैर मजरूआ भूमि है। इस पर सार्वजनिक सहयोग से मंदिर बनाए जाएंगे।

      इसी बीच प्रशासन द्वारा मामले की जांच पड़ताल करते हुए दोनों पक्ष के लोगों को हिलसा थाना में बुलाया गया और अंचलाधिकारी द्वारा जमीन की नापी सरकारी अमीन के द्वारा करवाकर उसी के अनुरुप निर्णय लिए जाने की बाद कही।

       विम्स पावापुरी में चिकित्साकर्मियों के साथ मारपीट, देखें X पर वायरल वीडियो

      रोहिणी नक्षत्र की भीषण गर्मी देख मुस्कुराए किसान, 2 जून तक रहेगी नौतपा

      BPSC शिक्षकों को नहीं मिलेगें अन्य कोई छुट्टी, होगी कार्रवाई

      महिला की मौत के बाद अस्पताल में बवाल, तोड़फोड़, नर्स को छत से नीचे फेंका

      अब इन शिक्षकों पर केके पाठक का डंडा चलना शुरु, जानें बड़ा फर्जीवाड़ा

      LEAVE A REPLY

      Please enter your comment!
      Please enter your name here

      This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!
      राजगीर वेणुवन की झुरमुट में मुस्कुराते भगवान बुद्ध राजगीर बिंबिसार जेल, जहां से रखी गई मगध पाटलिपुत्र की नींव राजगीर गृद्धकूट पर्वत : बौद्ध धर्म के महान ध्यान केंद्रों में एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल राजगीर का पांडु पोखर एक मनोरम ऐतिहासिक धरोहर