अन्य
    Friday, April 12, 2024
    अन्य

      इस्लामपुर थानेदार ने जान पर खेलकर कुख्यात अपराधी मनीष पाण्डेय को दबोचा

      इस्लामपुर (नालंदा दर्पण)। इस्लामपुर थाना पुलिस ने कुख्यात अपराधकर्मी मनीष पाण्डेय को एक मुठभेड़ के दौरान अवैध अग्नेयास्त्र के साथ गिरफ्तार करने में सफलता पाई है। इस दौरान अपराधी ने पुलिस पर फायरिंग करते हुए भागने का हरसंभव प्रयास किया।

      बताया जाता है कि इस्लामपुर थानाध्यक्ष संजीव कुमार सिंह को अवैध शराब के बरामदगी हेतु विशेष छापामारी अभियान के दौरान यह जानकारी मिली कि इसलामपुर थाना कांड संख्या-47 / 23 के वांछित कुख्यात अपराधी पीरबिगहा थाना के महम्मदपुर गांव निवासी मनीष कुमार उर्फ मनीष पाण्डेय अपने अपराधिक दोस्तों के साथ इस्लामपुर बाजार में बंदूक के बल दुकानदारों से रंगदारी वसूल कर जैतीपुर की ओर काले रंग के प्लसर मोटर साईकिल पर सवार होकर जा रहा है।

      प्राप्त सूचना के आलोक में इस्लामपुर थाना पुलिस द्वारा आवश्यक कार्रवाई करते हुये शेरपुर मोड़ के पास सघन वाहन चेकिंग प्रारंभ किया गया। उसी दौरान एक काले रंग के प्लसर मोटर साईकिल पर सवार दो लडके को जैतीपुर बाजार की ओर जाते देखकर उसे रोकने का प्रयास किया गया तो बाइक के पीछे बैठे लडके के द्वारा पिस्तौल से पुलिस बल पर फायर कर दिया गया।

      इसके बाद जबाबी कार्रवाई के क्रम में मोटर साईकिल सवार दोनों व्यक्ति भागने लगे, जिसमें से एक भागने में सफल हो गया तथा एक पकडा गया। पकड़ाये व्यक्ति से नाम पता पूछने पर अपना नाम मनीष कुमार उर्फ मनीष पाण्डेय पिता अमरेन्द्र प्रसाद साकिन महम्मदपुर थाना पीरबिगहा जिला नालंदा बताया।

      उसके बाद विधिवत तालाशी लेने पर मनीष पाण्डेय के पास से एक देशी कटटा, 2 जिंदा कारतूस, 1 खोखा बरामद कर विधिवत् जप्ती सूची बनाकर जप्त किया गया है। बरामद अवैध देशी कटटा जिंदा गोली तथा खोखा के संबंध में अलग से इसलानपुर थाना कांड संख्या 94 / 24 दिनांक 05.03.24 धारा 307 / 34 भादवि एवं 25 (1- बीए / 26 / 35 आर्म्स एक्ट के अंतर्गत कांड दर्ज कर अनुसंधान प्रारंभ किया गया है।

      गिरफ्तार अभियुक्त का लम्बा अपराधिक इतिहास रहना पाया गया है। गिरफतार अभियुक्त मनीष पाण्डेय के विरुद्ध नालंदा जिला के लहेरी, सोहसराय, दीपनगर, बिहार, पीरबिगहा थाना में रंगदारी की मांग करने, लूट का प्रयास करने तथा हत्या का प्रयास करने संबंधी कांड पूर्व से दर्ज है।

      गिरफ्तार अभियुक्त के द्वारा बीते 30 जनवरी को इस्लामपुर बाजार में टाईल्स दुकानदार से रंगदारी की मांग की गयी थी। रंगदारी नहीं मिलने पर दहशत फैलाने के लिए इस्लामपुर बाजार में गोली फायरिंग की घटना को अंजान दिया गया था।  इस संबंध में इस्लामपुर थाना कांड संख्या 47 / 23 दर्ज हुआ था। इस केस में वह वांछित चा रहा था।

      भाकपा माले की जांच टीम ने गुडू हत्याकांड का लिया जायजा, बताया सुनियोजित शाजिस

      चंडी नगर पंचायत में हर माह हो रहा 2-3 लाख रुपए का सफाई घोटाला

      मुखिया को नहीं पता कहां है पंचायत की संचिकाएं, रोजगार सेवक कहता है- तू नीच जात है…

      [embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=7j2Kg675KMQ[/embedyt]

      नालंदा लोकसभा चुनाव को लेकर सभी हेलीपैडों को अलर्ट रखने का आदेश

      बैंककर्मियों ने बिहारशरीफ नगर में ऋण वापसी को लेकर चलाया अनोखा अभियान

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!
      बिहारशरीफ नगर का रमणीक स्थान हिरण्य पर्वत नकली और असली दवाइयां में पहचान के तरीके दुनिया का पहला प्रसिद्ध विश्व शांति स्तूप राजगीर बिहार की सैर कीजिए जानें राजगीर ब्रह्म कुंड का अद्भुत रहस्य ई BPSC टीचर बच्चों के बीच क्या मिमिया रहा है KK पाठक साहब?