अन्य
    Friday, April 12, 2024
    अन्य

      पत्रकार की अचानक मौत से स्वजनों में मचा कोहराम, शोक संदेश का तांता

      इस्लामपुर (नालंदा दर्पण)। इस्लामपुर नगर परिषद क्षेत्र से दैनिक आज अखबार के पत्रकार गोपाल प्रसाद का अचानक मौत पर परिजनों के बीच कोहराम मच गया है। वहीं पत्रकारो ने शोकाकुल परिजनों से भेंट कर संतावना दिया और ढाढस बंधाया।

      बताया जाता है कि पत्रकार गोपाल प्रसाद की तवीयत खराब चल रही थी और इसी दौरान ससुराल में उनकी मौत हो गयी है।

      उनकी अचानक मौत की खबर सुनते ही पत्रकारिता जगत के सहयोगी साथियों साथ साथ समाजसेवी, मित्रगणों, विभिन राजनितिज्ञ दल के लोगों ने दुख प्रकट किया और इस दुख की घड़ी मे परिजनो को ढाढस बंधाया है।

      इस दौरान बिहार पत्रकार संघ अध्यक्ष शरफराज हुसैन ने कहा कि संघ के सभी लोग पत्रकार के शोकाकुल परिजनो के साथ खड़े हैं।

      इस दुःखद मौके बिहार पत्रकार संघ के सचिव वीरेन्द्र प्रसाद, जयप्रकाश नवीन, रामकुमार वर्मा, विक्रम विहारी, धर्मेंद्र कुमार, के अलावा अजीत केशरी, डा. प्रवीण कुमार, समाजसेवी राजेश खन्ना जदयु नेता शैलेंद्र कुमार सिंह, रीतेश गांधी, विनय सिंह, मुकेश कुमार, जितेंद्र लाल गुप्ता, विनोद कुमार, अरविंद कुमार विश्वकर्मा, संजय साहू, शिवदानी पांडेय, सुरेश वर्मा, जनार्दन प्रसाद, आदि लोग मौजूद थे।

      [embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=3XCHd9QZ0fk[/embedyt]

      चंडी नगर पंचायत में हर माह हो रहा 2-3 लाख रुपए का सफाई घोटाला

      मुखिया को नहीं पता कहां है पंचायत की संचिकाएं, रोजगार सेवक कहता है- तू नीच जात है…

      [embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=JhDnEB95JwE[/embedyt]

      नालंदा लोकसभा चुनाव को लेकर सभी हेलीपैडों को अलर्ट रखने का आदेश

      बैंककर्मियों ने बिहारशरीफ नगर में ऋण वापसी को लेकर चलाया अनोखा अभियान

      [embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=nTxQIxOMLBs[/embedyt]

      राजगीर-बिहारशरीफ मार्ग पर महिला की गला रेतकर निर्मम हत्या

      संबंधित खबरें
      error: Content is protected !!
      बिहारशरीफ नगर का रमणीक स्थान हिरण्य पर्वत नकली और असली दवाइयां में पहचान के तरीके दुनिया का पहला प्रसिद्ध विश्व शांति स्तूप राजगीर बिहार की सैर कीजिए जानें राजगीर ब्रह्म कुंड का अद्भुत रहस्य ई BPSC टीचर बच्चों के बीच क्या मिमिया रहा है KK पाठक साहब?